शीशम

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

शीशम (Dalbergia Sissoo)

यह कई रोगों की दवा है. शीशम के पत्तें  के  फायदे  – गर्मी(Body Heat) , सेक्स प्रॉब्लम , चर्म रोग (Skin Problem) का यह  आयुर्वेदिक रामबाण इलाज है

रोग- सुजाक, गर्मी(Body Heat) , सेक्स प्रॉब्लम , चर्म रोग (Skin Problem)

दवा- यह रक्त विकार (Blood Problem ) को दूर करने वाला और धातु (Sperm) परिवर्तक है। यह सुजाक, मूत्र की रुकावट (Urine Problem), गर्मी, धातुदोष, धातु की कमी (Lack of Sperm), कुष्ठ रोग (Leprosy), चर्म रोग ( Skin Problem) को दूर करता है। इसकी ताजा लकड़ी का 20 ग्राम बुरादा लेकर या सूखी 10 ग्राम लेकर 200 m.l. पानी में उबालकर 100 ग्राम पानी रहने पर प्रातः सायं पीये। पत्तों को पीसकर शर्बत पीने  से भी लाभ होता है। सावधानी – बहुत ठंडा होता है। अपनी स्थिति देखते रहे । जब जरूरत न हो, तो बंद कर दें।

 

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *