अपामार्ग

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

अपामार्ग  (Achyranthes Aspera)

यह कई रोगों की दवा है. एसिडिटी(Acidity), पथरी(Stone),लीवर विकार या सूजन (Liver Problem), नाक बंद (Nose Blockage) का यह  आयुर्वेदिक रामबाण इलाज है.

  रोग- एसिडिटी(Acidity), पथरी(Stone),लीवर विकार या सूजन (Liver Problem), रक्त विकार (Blood Problem), कफ (Cough),  नाक बंद (Nose Blockage), एलर्जी, अपचन आदि. यह कायाकल्प दवा है ।

दवा – पंचांग का काढ़ा या जड़ की छाल का चूर्ण  5 ग्राम गर्म पानी के साथ भोजन के दो घंटे पहले। एसिडिटी में दो घंटा बाद .

विशेष सेवन – सूखी जड़ों को जलाकर राख करके पानी में घोल कर सुखाएं। इस पाउडर की मात्रा 3 चावल बराबर है। इसे दूध में लें।

यह कायाल्क्प करके नवजीवन देता है।

इसकी जड़ का चूर्ण 5 ग्राम गर्म पानी के साथ देते रहने से पथरी टूटकर निकल जाती है। यह उपर्यक्त सभी रोगों की दवा है।

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *