‘धर्मालय’ से रोग और समस्याओं के निदान हेतु क्या सहायता प्राप्त हो सकती है?

रोग और समस्याओं के उपचार(इलाज) यह हमारी वेबसाइट पर ही स्पष्ट है। कई बार मैंने पोस्ट में भी स्पष्ट किया है। इस पर ‘चमत्कारिक चिकित्सा प्रभाग’ में भिन्न – भिन्न …

Read More

बल वीर्य, धातु, कांति, ओज और याददाश्त के घरेलू तांत्रिक नुस्खें

पुरूषों की सेक्‍स संबंधी समस्‍याएं और उनका उपचार स्त्री हों या पुरुष , यदि आप स्वप्नदोष , धातुपतन, लिकोरिया, बहुमूत्र , अति मासिक , अल्प मासिक के शिकार नहीं है …

Read More

हिस्टिरिया रोग इलाज दौरे से पहले भयानक आकृति दिखाई देती है।

हिस्टीरिया क्या है? प्रश्न – हमारे मित्र की पत्नी को शादी के बाद से दौरे पड़ते है डॉक्टर मिर्गी बताते है। इलाज से कोई फायदा नहीं है। दौरे से पूर्व …

Read More

स्त्री-गुप्त रोगों एवं कष्ट के निदान की जानकारी कैसे करें?

महिलाओं के गुप्त रोग समस्याओं के कारगर घरेलू उपाय गर्भाशय सम्बन्धी रोग में कैसे करें निदान? स्त्रियों के विशेष रोगों की आपकी जानकारी में कोई चिकित्सा है? यह प्रश्न कई …

Read More

यौनांग की वृद्धि के नुस्खें बताईये

लिंग वर्द्धक(बढ़ाने) इलाज इसमें 20% तक ही वृद्धि संभव होती है। हमसे महाकाल भैरव लेप मंगवाकर विधि से प्रयुक्त कीजिये या खौलते तेल में पेड़ों पर घोसला बनाये लाल चींटियों …

Read More

तनाव नहीं आता क्या करें?

सेक्स समस्या(शीघ्रपतन) धातु की कमी है। तीन महीने तक तन्त्र के नुस्खें से बने अर्क का 20 बूँद प्रतिदिन के हिसाब से सेवन करें। कुछ सामान्य निर्देशों का पालन करें। …

Read More

पानी से कीजिये गंभीर समस्याओं का इलाज

1 लीटर भूगर्भ या पीनेवाला पानी लें। इसमें 100 ग्राम शुद्ध रेत , जिसमें मिट्टी न हो (घोलें) डालें। इसमें 10 ग्राम सेंधानमक २० ग्राम निम्बू का रस डालें। 15 …

Read More

लकवा , पक्षाघात, मधुमेह और ब्लड प्रेशर की इलाज

डायबिटीज और उच्च रक्तचाप इलाज लकवा और पक्षाघात दो तरह के रोग है । लकवा चेहरे पर होता है और पक्षाघात बाएँ दायें का एक साइड आक्रांत होता है। इसका …

Read More

किसकी चादर में दाग नहीं?

सेक्स से सम्बन्धित समस्या का देशी इलाज(दवा) हमारे पास अनेकों स्त्री पुरुष के पत्र आते है। किसी को डर है कि उसने कई बार शराब पिली है, वह तो भ्रष्ट …

Read More

रोगों से राहत के सरल नुस्खें (प्रत्येक स्त्री/पुरुष के लिए)

गठिया – जाड़े और बरसात में इस रोग की पीड़ा बहुत कष्ट पहुंचाती है। इससे बचने के लिए तीन लहसुन के जवे, ५ ग्राम टिल के साथ शहद मिलाकर ( …

Read More