भैरवी चक्र साधनाओं में मुख्य चक्र की पूजा

सबसे पहले भैरवी का अभिषेक एवं उसका पूजा किया जाता है। इसमें उसे पहले अभिमंत्रित मिट्टी से; फिर पंचामृत से एक-एक करके स्नान करवाया जाता है। किसी किसी गुरु द्वारा …

Read More

भैरवी चक्र का कायाकल्प प्रयोग

पारद को तन्त्र में धातु परिवर्त्तक रसायन माना गया है। आयुर्वेद में भी इसे यही कहा गया है। उचित प्रकार इसको शोध कर इसका प्रयोग करने से अनेक लाभ होते …

Read More

भैरवी साधना की आध्यात्मिक वैज्ञानिकता और लाभ

यह मार्ग अलग है; पर यह कोई अलग धर्म नहीं है| यह सनाताधर्म के आध्यात्मिक विज्ञान का ही एक मार्ग है और इसके सर्वोच्च ईष्ट सदाशिव हैं| यह वाम मार्ग …

Read More

उपर्युक्त भैरवी साधना में सावधानी एवं वर्जनायें

यदि आपके धार्मिक या परम्परागत संस्कारों में ये क्रियाएं क्षोभ उत्पन्न करती हैं या अपराधबोध से ग्रसित करती हैं; तो इसे न करें। भैरवी अपनी पत्नी हो या पर स्त्री …

Read More

भैरवी चक्र की सरल साधनाएं (हर स्त्री-पुरुष के लिए उपयोगी)

{:hi} भैरवी चक्र की साधनाओं का प्रारंभिक चरण भी यद्यपि गोपनीय क्षेत्र से सम्बंधित है; क्योंकि प्राचीन काल में गुरु साधारण जानकारी भी बिना दीक्षा और बिना गुरु सेवा के …

Read More

क्या ज्योतिष से सब कुछ ज्ञात हो सकता है?

जी हाँ, बशर्ते कि गणना में परिश्रम किया जाए। ज्योतिष में केवल खाने, राशि और ग्रह का ही संयोग नहीं होता। ग्रहों के बलों की भी गणना होती है और …

Read More

क्या भैरवी चक्र की साधनाएं अकेले की जा सकती है ?

स्त्रियों के लिए यह सरल है; क्योंकि उनमें भाव का प्रवाह गहरा और अधिक होता है। पुरुषों के लिए थोड़ा कठिन; क्योंकि केवल कल्पना के द्वारा काम भाव को जगाकर …

Read More

0 नियम की समालोचक

निर्गुण परमात्मा (परमसार/ तत्व/0/सदाशिव) से प्रकृति के सगुण अस्तित्त्व की उत्पत्ति वैदिक ‘तत्व विज्ञान’ , तन्त्र के शैवविज्ञान, – दोनों में वर्णित है। उपनिषदों, सहित तमाम प्रसिद्ध तंत्र ऋषियों ने …

Read More

कामभाव में कैसा आध्यात्म हो सकता है?

आदिकाल से सारे ऋषि मुनि भौतिकता को नष्ट करके स्व की चेतना के बोध को समाप्त करने के लिए कठोर तप करते रहे है। इस स्व बोध से रिक्त होने …

Read More

आध्यात्म में ‘अणुमल’ क्या है?

मूलतत्व यानी वह परमात्मा; जिसे वैज्ञानिक भाषा में 0 कहा जा सकता है; निर्मल होता है। इसीलिए ‘अघोर’ (निर्मल) कहा जाता है। इसमें ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति तीन पॉवर पॉइंट वाले …

Read More