सिद्धि प्राप्ति के उपाय – सिद्धि कैसे प्राप्त करें?

सिद्धि प्राप्ति के उपाय
धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

सिद्धि कैसे प्राप्त करें? सिद्धियाँ प्राप्त करने के उपाय जानना चाहते हैं?

विभिन्न चमत्कारिक सिद्धि प्राप्ति के उपाय जानने से पूर्व पहले हमें यह जानना जरूरी है कि सिद्धि प्राप्ति के नियम क्या हैं और तभी हम सिद्धि प्राप्ति की विधि की ओर बढ़ सकते हैं. इन नियमों को जानने के बाद ही आप किसी भी प्रकार की सिद्धि या अष्ट सिद्धि की प्राप्ति के उपाय को समझ पायेंगे. इस लेख को ध्यानपूर्वक पढ़ें. यहाँ से आपको इस क्षेत्र में आगे बढ़ने के रास्ते नज़र आने लगेंगे. धर्मालय पर कई प्रकार कि सिद्धियों की प्राप्ति से सम्बंधित लेख उपलब्ध हैं. जिसे आप इस लेख के बाद पढ़ सकते हैं.

सिद्धि क्या होती है? साधना क्या है?

जब हमारी कोई कामना होती है, तो उस कामना की पूर्ति के लिए विधिवत् नियमित की गयी क्रिया ‘साधना’ है और कामना की पूर्ति ‘सिद्धि’। इसका सम्बन्ध किसी विषय से नहीं है। ‘कामना’ का विषय कुछ भी हो सकता है। सभी जीव संसार में अपने-अपने अनुसार कामना करते है। किसी को सड़े हुए मांस की कामना होती है, तो कोई फूलों के रस की कामना करता है। शराबी शराब की कामना करता है , तपस्वी आध्यात्मिक शक्तियों की।

सभी कामना की पूर्ति एक ही प्रकार के नियमों से होती है

साधना और सिद्धि के नियम

A. वास्तविक कामना – कामना के दो रूप होते है। पहले में किसी प्राप्ति के प्रति आकर्षण जगता है , पर उसमें गहरायी नहीं होती। ऐसी कामना पर किया गया प्रयत्न सफल नहीं होता।

दूसरी वास्तविक कामना वह होती है, जिसमें प्राप्ति की इच्छा इतनी तीव्र होती है कि हर क्षण ‘जीव’ उसी में डूबा रहता है। इतनी कि उसे खाना-पीना , मनोरंजन , कामभाव, किसी में मन नहीं लगता। ऐसी कामनाएं स्वभाविक तौर पर परिस्थितियोंवश उत्पन्न होती है।

B. गुरु – किसी कामना की पूर्ति के लिए क्या करना होगा , कैसे करना होगा , इसकी जानकारी गुरु देता है। परन्तु यदि गुरु ‘तत्त्वविज्ञान’ का ज्ञाता नहीं है; तो वह किसी नयी कामना की पूर्ति का मार्ग नहीं बता सकता है। ‘तत्वविज्ञान’ का ज्ञाता , नयी-पुरानी सभी प्रकार की कामनाओं की पूर्ति का मार्ग बता सकता है , क्योंकि मार्ग की खोज तत्वविज्ञान के सूत्रों पर होती है।

(a) स्वयं सिद्ध गुरु – यदि कोई कामना है और कोई मार्ग बताने वाला भी नहीं है; तो प्राप्त ज्ञान के आधार पर मस्तिष्क द्वारा किया गया विश्लेषण ही मार्ग बताता है। इस प्रकार प्राप्त की गयी सिद्धि सर्वश्रेठ मानी जाती है। पूर्व में किये हुए कार्य को सफलतापूर्वक सी कामना की पूर्ति उन्ही कामनाओं की हो सकती है, जो पूर्व में किसी के द्वारा किये गये हो; पर नयी कामनाओं की इसी प्रकार होती है। किसी पूर्व की कामना की सिद्धि का कोई नया  परिष्कृत मार्ग भी इसी प्रकार खोजा जाता है।

C. दृढ निश्चय और धैर्य – कामना की प्राप्ति के प्रति दृढ निश्चय होना चाहिए। बच्चा चलना सिखने के समय अनेक बार गिरता है। पर उसके पास उसे सीखने के सिवा अन्य कोई विकल्प नहीं होता। इसीलिए प्रत्येक बच्चा चलना सीख जाता है। इसी प्रकार सभी प्रकार की कामनाओं में उसे प्राप्त करने का निश्चय दृढ होना चाहिए।

कामना जितनी बड़ी, जितनी कठिन –जटिल होनी; उसमें वक्त भी लगेगा; असफलतायें भी मिलेंगी; पर जो धैर्य के साथ उसमें लगा रहता है , वह एडिशन की तरह दुनिया को प्रकाशित करने वाला मसीहा बन जाता है।

D. मानसिक केंद्रीयकरण – अपनी कामना के प्रति हमारी मानसिक एकाग्रता , जितनी केन्द्रित होगी; हमे उतनी जल्दी सफलता मिलेगी। यह गणेशजी की सूंढ़ है। स्थिर नहीं रहती। हो गयी , तो असम्भव भी सम्भव हो जाता है।

E. अभ्यास – निरंतर किया गया प्रयत्न ही सफलता का एक मात्र रास्ता है। अनियमित, अनमनेभाव से, ध्यान कहीं, काम कहीं होगा – तो सफलता नहीं मिलेगी।


अन्य पोस्ट्स

  1. क्या देवी देवता सचमुच होते हैं?
  2. क्या किसी माला की सिद्धि मंत्र जपने से होती है?
  3. माला, यंत्र, वस्त्र एवं पूजन सामग्री

सिद्धि कैसे प्राप्त करें?

सिद्धियों की प्राप्ति की सफलता के ये ही पाँच मुख्य नियम है. इनको अपनाने से ही समस्त वैज्ञानिक आविष्कार होते है; सर्कस के खिलाडी अजूबे करते है; पराविज्ञान की सिद्धियाँ भी ऐसे ही प्राप्त होती है. इन्ही को अपना कर बाघ शिकार करना सीखता है. ये शाश्वत सूत्र है, सब पर एक ही तरह से लागू है.

अधिकतर लोग अप्सरा साधना, यक्षिणी साधना आदि के सम्बन्ध में रूचि रखते हैं, पर ऐसे लोग उस विषय पर पहले से ज्ञान ले कर आतें हैं और भिन्न भिन्न गुरुओं के कथन को दुहराने लागतें हैं. ऐसे व्यक्ति किसी भी साधना के योग्य पात्र नहीं हैं. ऐसे लोग किसी साधना में सफलता प्राप्त नहीं कर सकते. यदि कोई आपको विश्वश्त करता है, तो उसी को गुरु बनाएं. यह संदिग्ध मानसिकता का क्षेत्र नहीं है. यदि हमारे पास आतें हैं, तो हर निर्देश का पालन करना होगा. आज के आधुनिक युग में घर त्यागने की और गुरु सेवा में रहने की जरूरत नहीं होती है. कहीं से भी लाइव सम्पर्क हो सकता है.

विशेष: किसी भी प्रकार की सिद्धि प्राप्ति के उपाय जानने से पहले यह जानना भी महत्वपूर्ण होगा कि आपके लिए कौन सी साधना उपयुक्त होगी. यह कुंडली फल विश्लेषण का विषय है. इसके बिना साधना के किसी क्षेत्र में उतरना मूर्खता होगी. यदि यह सेवा आप हमारे यहाँ से प्राप्त करना चाहते हैं तो यह सेवा हमारे यहाँ सशुल्क है. अपनी कुंडली की फल गणना करवाने के लिए कुंडली पेज देखें. इस सम्बन्ध में जानकारी के लिए हमें लिखें. कुंडली की सेवा के लिए यहाँ क्लिक करें.

Email: info@dharmalay.com
धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

426 Comments on “सिद्धि प्राप्ति के उपाय – सिद्धि कैसे प्राप्त करें?”

          1. गुरुदेव मैं कुछ मंत्र सिद्ध करना चाहता हूँ इसके लिए मुझे क्या करना पड़ेगा

          2. वैसे कई मंत्र सिद्ध करना चाहता हूँ जिसमे सबसे पहला है कारोबार बढ़ाने हेतु ।

          3. मैंने तांत्रिक क्रियाओं के सम्बन्ध में जानकारी भी खूब हांसिल की है और इन्हें करना भी चाहता हूँ पर कोई गुरु नहीं मिल पा रहा और यदि कोई मिलता भी है तो वह तंत्र की कसौटी पर खरा नहीं उतरता अधिकतर ढोंगी, झूठे, धोखेबाज, और सांसारिक माया मोह में संलिप्त मिलते हैं ऐसे व्यक्तियों को गुरु बनाना भी खतरे से खाली नहीं होता और तंत्र शास्त्र के अनुसार भी ऐसे गुरु वर्जित हैं बताइए मैं क्या करूँ ।

      1. Pranam !! Me 21 sal ki hu guru ji mujhe apne andar aasa power banana he ki log kuch bura na kar paye mera or mere pariwar ka… Mujhe aap batao me kese start karu or kya karu… Kuch janne wale he jo humara acha nahi dekh sakte he. Me chahti hu aap mujhe guide kare me kese power banau khud me… Abhi mujhe kuch pata nahi he kese karu bus karna he… Meri madad kijiye…

      2. मुज़हे तन्त्र मंत्र की विधा की सीधी पपरापत करनी है मुज़हे सुरु से ही ये सीखने में रुचि रही है पर वही तक कोई गुरु जी नही मिला है इसलिए मुज़हे मेरा मार्गदर्शन करें में अभी ये करके खुद ओर दुसरो का भला करना चाहता हु। प्लस

        1. हमसे संपर्क करने के लिए धन्यवाद्। आपको हमारे द्वारा मेल भेज दिया गया है।

    1. हेलो मैं रमेश राजस्थान से हूं और मैं बहुत बड़ी समस्या से गिरा हुआ हूं मुझे संपर्क करें अन्यथा मैं आत्महत्या कर लूंगा 9829 955 920

          1. pranaam gurudev.saaririk samasya ke nidaan ke liye saral tatha kam samay wali achhi siddhi aur uska vidhan batane ki kripa karein.

          2. 11000/ रू फीस निधाॆरित है .व्यक्तिगत समस्याओं एवं निदेश निशुल्क नहीं हैं, यह जब से यह वेवसाइट अस्तित्व में है ,प्रसारित किया जा रहा है.

      1. समस्या डिटेल में बताये बिना हम आपकी कोई सहायता नहीं कर सकते .आत्म हत्या अपराध है .इस तरह की बातें करने पर आप और एक मुसीबत में फंस सकते हैं.

      1. धर्मालय पढने में नींद आती है ?क्या प्रवृति है यार ,जो बात जाने कितनी बार विस्तार से समझाई हुई है ,वह सब एक एक को बताना संभव होता ,तो सब साईट पर डालने की क्या जरूरत थी ?

      1. आपकी बात समझ से बाहर है . तंत्र का मतलब क्या है ? हर साधना तंत्र ही होती है ,यह उसकी विधि व्यवस्था से सम्बन्धित नाम है .विना विधि के तो खाना भी नहीं बनता .तो क्या हवा में कायॆ सिद्ध कर लेंगे ?.

    1. गुरवर ने आपकी समस्या को देखा हैं| जल्द ही वह सम्पर्क करेंगे आपसे |

          1. गुरु जी मुझे सिद्धियाँ चाहिए। मे भी। लोगो का भला कर सकु। हमारे यहा ओगड बहुत खराब हे। जिस्से आम लोग बहुत परेशान हे। तो प्लीज मुझे सिद्धि कि जरुरत है 9009117397 my mobilme no.

        1. जाने कितने घर बार छोड़ कर इसके लिए भटकते रहें हैंं ,पर सफलता नहीं मिली .वह ग्यान हमारी बेसाइट पर उपलब्ध है .पर केवल पढ़ने से कुछ नहीं होता पढ़ कर चिंतन परीक्छण भी करना परता है .ग्यान अपने ही प्रयत्नों से प्राप्त होता है ,किसी के बताने से नहीं .

  1. Sir,

    Aap ka bhut-2 dhanyavaad…Meine abhi kuch dinon se seekhna aur samjhna shuru kiya hai aur mein puran roop se sadhak banna chahtha hoon…Kaya aap mujhe guide karenge…

    Suhail Upadhaya
    07773013285

  2. हमे भी अपना सेवक बना लिजीए ।और थोडा ग्यान हमेभी देनेकी क्रुपा किजीए। मुझे आपसे मिलना एवं शिक्षा लेनी है । क्रिपया मार्गदर्शन करे।

    1. गुरु द्वारा दिया गया ज्ञान कभी खाली नहीं जाता हैं
      गुरु जी मैं भी इस क्षेत्र में आना चाहता हूँ मुझे गरीब लोगों की सेवा करने का अवसर प्रदान करने में अपना आशीर्वाद प्रदान करें
      आप से मिलने की इच्छा है प्रभु अपना शिष्य बनाने की क्रपा करें। रवि कुमार आगरा। फोन न ० 8445609938

      1. हमारी वेबसाइट शिक्षा ही तो प्रदान कर रही है. ज्ञान क्षेत्र से सम्बंधित जो भी शंका या जिज्ञासा है उसके लिए ईमेल भेजिए. मैं अकेला व्यक्ति हूँ और अनेक क्षेत्र में परिश्रम करना पड़ता है. मेरा schedule भी व्यस्त रहता है. जब तक कोई आवश्यक विषय न हो, मिलने का कोई अर्थ नहीं है. ज्ञान चर्चा सामने बैठ कर करना असंभव है. क्योंकि हजारों लोग हैं और दर्ज़नों लोग प्रतिदिन मिलना चाहते हैं. इस तरह की चर्चा भी लम्बी होती है. मेरे पास इतना समय नहीं होता. और इसकी आवश्यकता भी नहीं है. क्योंकि जिज्ञासाओं का समाधान ऑनलाइन बहोत अछे से हो सकता है. जहाँ तक सिद्धियों की बात है, यह क्षेत्र गोपनीय है और इसके लिए अनेक शर्तों को पूरा करना होता है. मैं कोई पंथ नहीं चलता इसलिए शिष्य भी नहीं बनता. हाँ कुछ सीखना हो तो अलग बात है. परन्तु इसके लिए पूरी जानकारी पात्रता, बायो डाटा अदि के साथ सन्दर्भ बताने पर ही कोई मुलाकात संभव है. इस क्षेत्र में यह जानते हुए समपार करें की यह सेवा सशुल्क है और इसमें अपनी प्रिय वास्तु का दान करना होता है. इस सम्बन्ध में हम अनेक उत्तर पहले भी दे चुके हैं.

  3. Namaskar, maine apko isle pale bhi ek email bhej hai courses ki JankarI ke liye waha apnea fees ke bare me bata diya hai par muze abtak available courses ki shuchi prapt nahi hui hai jisse mai choose kar saku. Krupaya bata ne kripa karen.

  4. मुझे भी साधना करना है
    कृपया मुझे मार्ग बताये।।

  5. प्रशांत जी हमसे संपर्क करने के लिए धन्यवाद !! आप को हमसे सम्पर्क किया हैं, कृपया आप अपने दिए गये मेल को चेक करें

    1. गुरू जी ऐसा कोई सिद्धि है किसी भी वस्तु या आदमी या कोई नंम्बर जानलु देखलू

  6. Poojyaniye,
    Main ek bhatka sadhak hoon kaaran ek gyaan dene wala saksham guru ka na hona so prabhu krpa Karen aur apna saanidh pradaan karen mujhe sweekaar karen

  7. Maine divya drishtika 3 Chandra Grahan me jap kiya phir bhi drishti chalu nahi hui please muje margdarshan kijiye

  8. जब कोई साधक अपनी साधना करता रहता है, तो चन्द्र ग्रहण काल में या सूर्य ग्रहण काल में जप करने का विशेष महत्त्व होता है| ऐसा कोई नियम नहीं है कि कोई चन्द्र ग्रहण काल में मंत्र जप कर लें , तो उसे सिद्धि प्राप्त हो जाएगी|सिद्धि की प्रक्रिया एक लम्बी प्रक्रिया है| बाजार में जो पतली किताबे बिकती है उनमें दिए गये विवरण में आगे पीछे की बात होती ही नहीं है | इसलिए यह भ्रम उत्पन्न होता है कि किसी विशेष काल में जप करने से तुरंत सिद्धि मिल जाती है | यदि ऐसा होता तो तन्त्र शास्त्र में सिद्धियों के लिए जटिल प्रक्रियाओं का वर्णन नहीं होता| सभी विशेष काल में जप करके सिद्धि प्राप्त कर लेते| ये विशेष काल केवल ग्रहण का समय ही नहीं होता इसमें सौ के लगभग योग है, जिसकी गणना ज्योतिष के हिसाब से की जाती है|

    1. or wo dham kis name se bola jata h or mai apne guru bana chuka hu mene bhi bahut dekhi h tantrik kriya mene jab nirdaya liya jo mene guru banaye h wo sachche or emandar the or shakti ka aabhash bhi dekh chuka Hu unke duwara or bahut kam bhi kiye h dukhi logo ke maharaj ye janna chahta Hu mai sahi raste par chal rha Hu ye batane ki kripa kare aap jese hi Mahan purasho ke mukh se kya wani niklti h ye sunna chahta Hu maharaj

  9. गुरुदेव के चरणों में प्रणाम ।
    मैं शिव उपासक हूँ एवं इन्ही को अपना गुरु मानकर मैंने कई साधनाए संपन्न की है जिनमे से काली साधना, भैरव साधना, गोरखनाथ साधना एवं अन्य कई साधनाए संपन्न कर चुका हूँ । शिव कृपा से मुझे इन सिद्धियों में सफलता भी प्राप्त हुई है और इन सिद्धियों से कई तरह के कार्य भी संपन्न कर चुका हूँ।
    मगर पिछले एक वर्ष से मन की एकाग्रता नहीं प्राप्त कर पा रहा हूँ जिसकी वजह से साधना एवं उपासना के कर्म संपन्न करने में मन बिलकुल भी नहीं लगता । दिन में कई बार उपासना या साधना की इच्छा प्रबल होती है किन्तु रात्रि में साधना आसन पर बैठते ही एक अजीब तरह की हरकत शरीर में होने लगती है जिसकी वजह से साधना से मन विरक्त हो जाता है। पहले एक आत्मविश्वास हमेशा बना रहता है एवं किसी भी घटना का पूर्वानुमान भी होता रहता है किन्तु अब ऐसा नहीं होता।
    ऐसा क्यों हो रहा है मैं नहीं जानता अगर आप इस सम्बन्ध में मेरा मार्गदर्शन कर सकें तो आजीवन आपका आभारी रहूँगा।

    1. मन के भटकने का कहीं न कहीं कोई कारण होता है| अकारण इस प्रकृति में कोई घटना नहीं घट सकती| जीवन का कोई परिवर्त्तन , किसी प्रकार की कोई घटना या खान पान या रहन -सहन में बदलाव इसका कारण होता है| कारण को जाने बिना किसी समस्या का सामाधान नहीं होता|मेरी समझ में यह भी नहीं आ रहा है| कई साधनाओं की सिद्धि करने के बाद किसी व्यक्ति का मन कैसे भटक सकता है? जब तक कि कोई बहुत बड़ा कारण न हो | क्योंकि सारी सिद्धियाँ मानसिक एकाग्रता के अभ्यास पर ही निर्भर करती है| कई गाड़ियों को चलाने वाला एक्सपर्ट ड्राईवर यदि गाडी नहीं चला पा रहा है, तो यह अकारण नहीं होता| कारण जाने बिना निदान सम्भव नहीं है

  10. Janab mai aisi siddhi prapt krna chahta hun jisse mere andar kafi takat aa jaye or mere upper vijay prapt krna asambhav ho jaye kripya is siddhi ka nam bataye tatha use prapt Karne ka tarika or iske niyam bataye or mera answer mujhe mail kare ya whatsapp kare kripya call na kare because i am a Muslim so i want privacy. Thanking you

  11. Mahoday kya koi Aisi sidhdhi he jise siddha karne ke bad kisi ghatna,nishkarsh ya parinam ka shat pratishat purwanuman lagaya ja sake….agar sambhav he to pls mujhe puri jankari pradan kare…me aabhari rahuga….

    1. यह मानसिक शक्ति की एकाग्रता से संभव है| सामान्य संकेत तो सामान्य सिद्धियों में होने लगते हैं लेकिन शत-प्रतिशत का अनुभव मुझे नहीं है| यह गणेश की साधना हैं और कई रूपों में सिद्ध की जाती हैं| इसकी कोई सीमा नहीं है| जिस स्तर की आप बात कर रहे हैं वह एक दुर्लभ सिद्धि हैं, परन्तु मेरे हिसाब से वह माहाभिशाप है| क्योंकि भविष्य दर्शन होने लगे; तो मनुष्य या तो पागल हो जागेया या आत्महत्या कर लेगा| क्योंकि भविष्य अनेक अनहोनी को भी छुपाये रहता है जिसकी कल्पना करके भी मनुष्य का हार्ट फेल करने लगता है| यह सिद्धि किसी मोक्ष प्राप्त वैरागी को ही रास आ सकती है| जिसे सुख दुःख की अनुभूति नहीं होती

  12. Sir g aap k lekh bhut hi wdiya hai. Is k liye aap ka bhut bhut abhaar.. Mai kush esa janna cahta hu jis se kisi ki bimar bandhe ko tandrust kiya ja ske. Jese mere pita g bimar rehte hai. Unhe kese theek kiya jaye

  13. मैं आठो सिद्धियों का ज्ञान प्राप्त करना चाहता हु और काफी समय से कोशिश कर रहा हु पर आज तक कोई उचित मार्गदर्शन नहीं मिला
    अगर आप मेरी मदद कर सके तो आपका बहुत आभारी रहूंगा

  14. गुरूजी प्रणाम,
    मुझे ऐसा आभास होता है कि मेरे अन्दर कुछ शक्तियाँ निहित हैं मैं उन्हें जागृत करना चाहता हूँ क्या मुझे आपका आशीर्वाद प्राप्त हो सकता है, मैं अप्सरा साधना भी करना चाहता हूँ

  15. मुझे आप पर यकीन नही है, आज INTERNET पर कितने ढ़ोंगी इसी तरह की बाते करते है । अगर आप सच्चे होंगे तो ऐसी कोई भी छोटी मोटी पुर्ण सिद्धि दिजिए तो मेरा संशय दुर करेंगे , अन्यथा आप भी एक ढ़ोंगी है
    अगर आप वास्तव मे ऐसा करते है तो मै आपके चरणो को धो के पिऊंगा

    1. आप बहुत चालाक लगते है | आप जैसे ही लोग भगवान को भी कहते है कि मेरा काम कर दो , तो मैं तुम्हे मानूंगा वर्ना में तुम्हारी पूजा नहीं करूँगा| परन्तु शायद आपको पता नहीं कि भगवान् को आपके पूजा से मतलन नहीं होता| आप कीजिये या न कीजिये वह भगवान् ही रहेगा| मैंने आपको कहा है कि आप मुझे सिद्ध महात्मा समझिये? अपनी बात समझने के लिए आप पूर्णतः स्वतंत्र है|कोई भी व्यक्ति अपनी अपनी मान्यताओं में जीने के लिए स्वतंत्र है|सवाल ये नहीं है कि किसको क्या आता है? सवाल ये है कि कोई आप पर समय क्यों नष्ट करें? जो आपके लिए उपयुक्त नहीं है या गलत लगता है , उस ओर जाते ही क्यों हो?

  16. गुरुजी प्रणाम
    मै उर्वसी साधना करना चाहता हूँ
    परन्तु मार्गदर्शन का अभाव है
    अगर आप सम्पूर्ण विधि मेरे ईमेल पर भेजें तो बहुत कृपा होगी ।

    1. उर्वसी साधना के लिए यंत्र विशिष्टता होती है , क्योंकि उसी के अनुरूप सारे विधि – विधान एवं रहस्यों को बताया जाता है और आपके लिए कौन सा मंत्र उपयुक्त होगा इसके लिए आपके जन्म डिटेल्स या तस्वीर की आवश्यकता होगी ..सारा विधि विधान और यंत्र की प्राण प्रतिष्ठा विधि आपको ईमेल द्वारा भेज दी जायेगी.. उसको पढने के बाद कोई बात समझ में न आये या कोई शंका हो , तो ईमेल से उसके बारे में पूछताछ कर सकते है

    1. तो भाईसाहब आपको घर पर बुलाने गए थे क्या

  17. guru Ji mai Sunil Kumar hu mai mata Kali ki sadhana karana chahata hu krpa app mujh maha Kali ki sadhana ka vidhan bataye or apmujh per gurukrapa Kate kyuki mera kougutunahi haikrapa kigiye guru Ji apakasisya Sunil Kumar

  18. गुरुजी प्रणाम,मुझे कर्नपिशाचिनि सिध्दि करनी हैं,क्रुपया रास्ता दिखाईये

  19. May un chijo me shidhi chaheti hu jo may kisi ka bhi bura kar saku aur kisi ka achha bhi kuchh chijo ko rok sako bus me kar lo jo kam may nhi chahiti hu may kali bhhakt hu

  20. गुरु जी
    मै बहुत सी समस्याओ में घिरा हुआ हु।।
    व्यापार भी नही चल रहा
    जीवन से निराश हो चूका हु
    कृपया कुछ उपाय बताये..

  21. गुरु जी प्रणाम एवं चरण स्पर्श!
    मैंने अभी तक कई साधनाएँ त्रुटि रहित की है परन्तु असफलता ही मिली! क्या साधना का फल गण, जातक पर भी निर्भर करता है? हाँलाकि मुझे मार्गदर्शन नही है परन्तु मैंने तंत्र, मंत्र, यंत्र, भूतडामर, यक्षिणी, पिशाचिनी,नागिनी, रावण सहिंता, महाइंद्रजाल, शाबर मंत्र आदि आदि का भरपूर पठन पाठन किया है, परंतु पता नहीं मुझ बेसहारे पर क्यूँ किरपा नहीं होती। मैंने किसी का अनहित मन में ना रखकर भी शांति कर्म किए परंतु कोई शक्ति द्रशटीगोचर नहीं हुई। मैं बस एक सफल व्यक्ति बनना चाहता हूं। गरीब हूँ, घर वालों की तमन्ना है कि कुछ बन जाऊं पर नसीब साथ नहीं दे रहा है। हालांकि पढ़ा लिखा हूँ स्नातक, कुछ तो समाधान करने की कृपा करें अपना पुत्र समझ कर।।

    1. जय श्री राम
      मेरा नाम अमोल है
      Mai aapase request karata hu ki aapake pass jo bhi kitabe hai matalab aapane apane post me bataye huye kaitab hai krupa karake aap usaki photo muje mere gmail par send kijiye plez

      Mera gmail id
      amolsonawane97@gmail.com

      Plzzzz

      1. इस समय मेरे पास साडी किताबें नहीं हैं .30 के लगभग होंगी . आपका उद्देश्य क्या है? जरुरत होने पर प्रकाशकों से प्राप्त किया जा सकता है.

  22. Guru ji sadar pranam,mera nam chittresh singh hai mai married hu ,mujhe jinn ki siddhi prapt krni hai,jo ek mitra ki trh mere sath rhe,kripya koi mantra or siddhi ka tarika btane ki kripa kre jo seeghra prapt ho

  23. जय महाकाल गुरूजी मैं अष्ट सिद्धि एवम परकाया प्रवेश सिद्धि करना चाहता हूँ। कृपया मार्गदर्शन करें। आप अपने आश्रम मे भी करवा दीजिये चाहे।

  24. साधना के लिये जगह व समय की कमी है कामेशवरी सिद्धि के लिये उपाय बतायें

  25. गुरु जी, कोई ऐसी पूजा या साधना बताएं जिससे मेरे पिता जी स्वस्थ रहे , साथ ही मैं कोई साधना या नियम करूँ की मैं अपने परिवार को सारे भौतिक सुख दे पाऊं।

  26. Sir Mane tantra mantra ke bare me suna hai leking kabhi kisi ke paas gaya to mujhe sirf dhong laga, koi actual tantric mila hi nahi, meri bhi ichha hai kai saalo se ke thoda bahut kuch sikhu, islia aapko likh raha hu pls. apne me bare me thoda bataye ya aapke koi website ho kya main Sikh sakta hu, agar haan to kitna samay-paisa lagega kyoki main grahast hu family hai is kaam ko chup ke karna padta ha mujhe roz naukri pe bhi jana hota hai kripya mujhe guide kare

  27. मेरा नाम सीतारामदास है।मैं तंत्रशास्त्र का कोई भी ज्ञान नहीं रखता पर मैं तंत्र शास्त्र मे निपुणता प्राप्त करना चाहता हूँ।एवं कई दिनों से योग्य गुरु की तलाश कर रहा हूँ।शायद गुरु देव मेरी सहायता कर अपनी कृपा दृस्टि से मुझे अनुग्रहीत करें।मैं गुरु देव से दीक्षा प्राप्त करना चाहता हूँ।इसके लीये मुझे क्या कार्य करना होगा।

  28. pranam
    kya apke nirdeshan mai sadhan ki vyavastha hai. Mai apke nerdeshan mai sadhana karna chahta hu.

  29. Guruji pranam..Maine kvi koi v sadhana nhi Ki hai .lekin Mai ab ek sadhana krna chahta Hu…mai urvashi apsara sadhan Krna chahta Hu..kripya pura margdarsan dene ka kst kren…
    Dhanyawad

  30. Sir namstey sir mujhe bhi koi aisi sadhna karwa
    Dijiye me garibo ka apahijo ka bude logo ka jinka iss
    Duniya me koi nhi h in sabka apni aur se har tarah ki
    Help karna chahta hu

        1. पहले अपना पूरा बियो डाटा और कौन सजिन्न यह बताएं . जिन्न इस्लामिक तंत्र की शक्ति है .हन्न्न्नन्न्न्मारी प्रक्रिया अलग प्रकार की होती है . इस से आप जिन्न तो सिद्ध कर सकते हैं ,पैर यह इस्लामिक पद्धति नहीं होगी .जिन्नों की सिद्धि उससे क्या कम लेंगे उन गुणों के आधार पर की जाती है .सारा विवरण भेजें तभी कुछ कहा जा सकता है .

  31. जय श्री राम
    मैं इष्ट साधना करना चाहता हु लेकिन मेरे पास मार्ग दर्शन नही है

    इष्ट देव को कैसे सिद्ध करू
    कृपया मार्ग दर्शन कीजिये मेरा

  32. आदरणीय श्रीमान में भी धन प्रदायक यक्षिणी की साधना करना चाहता हूँ। कृपा कर मार्गदर्शन करे। आपके उत्तर की प्रतिक्षा रहेगी।

    1. यक्षिणी साधना के लिए यंत्र , विधि और तमाम निर्देश का पैक ५१०० रु शुल्क
      जमा करवाने के बाद प्राप्त होता है| इस साधना में बार बार समस्या उत्पन्न
      होती है और उसका समाधान भी करना होता है , यह सेवा निःशुल्क नहीं है ,

  33. Pranam baba g ,mai aaj tak kisi ke sath kuchh b galat Ni kiya fir me mai hamesa nuksan me kyu rahta hu.mai direct cell marketing ka business karta hu jabki mujhe pata hai ki is business me bahut paisa hai fir b mai hamesa nuksan me kaise chala ja raha hu .ise sahi karne ke liye mujhe kya karna padega kripa kar ke mujhe marg darshan de

    1. सिद्धियां निशुल्क नहीं होती। यह मार्गदर्शन करने की चीज़ नहीं बल्कि technical विषय है. इसकी गुरु दक्षिण 11,000 रुपये है. यह विस्तृत तकनीकी वयाख्यान का विषय है. इसकी जिम्मेदारी उठाना या इसके सम्बन्ध में बताना निशुल्क संभव नहीं. info@dharmalay.com पर संपर्क करें

  34. Guruji prnam mai apsara Sadhna sikhna chhata hu PR samaj mai nhi aa RHA hai ki kaisse Karu plz guruji madat Kare vidhi or Mandra bataye

    1. सिद्धियां निशुल्क नहीं होती। यह मार्गदर्शन करने की चीज़ नहीं बल्कि technical विषय है. इसकी गुरु दक्षिण 11,000 रुपये है. यह विस्तृत तकनीकी वयाख्यान का विषय है. इसकी जिम्मेदारी उठाना या इसके सम्बन्ध में बताना निशुल्क संभव नहीं. info@dharmalay.com पर संपर्क करें.

  35. Guruji pranam,

    Mere guruji ki mrityu k bad ab mai andhkar me bhatak rha hu mujhe unke jaisa bnna h kripya marg dikhaye isse pahle maine kalratri sadhna ki hai kripya marg dikhaye

  36. गुरुदेव को नमस्कार ।
    गुरुदेव में माँ चण्डी की सिद्धि करना चाहता हूँ कृपया मार्गदर्शन करें ।

    1. सिद्धियां निशुल्क नहीं होती। यह मार्गदर्शन करने की चीज़ नहीं बल्कि technical विषय है. इसकी गुरु दक्षिण 11,000 रुपये है. यह विस्तृत तकनीकी वयाख्यान का विषय है. इसकी जिम्मेदारी उठाना या इसके सम्बन्ध में बताना निशुल्क संभव नहीं है. info@dharmalay.com पर संपर्क करें.

  37. Guru ji, muje jaisa ki hanuman chalisa me likha h… Ashth siddhi nav nidhi ke data as vr din janki mata.||
    Jiska arth hanuman ji ko ye ashirwad maa sita duwara mila ki wo apni ashth sidhi or nav nidhi ki shakti bakt ko de sakte h to
    In shidhyo ko or nidhiyo ko kaise prapt kiya jaa sakta h iske liye kis tarha ke mantra h kriya is baare me batane ka kasht kare
    Jai siya ram

  38. गुरु जी हमारे घर में धन की बोहोत कमी हे और हमार मन पढ़ाई में बिलकुल भी नही लागत हमे कुछ इस ज्ञान दीजिये ऐसा मार्ग दिखाइए जिससे हमारे सभी कष्ट दूर हो जाये धन की प्राप्ति हो और हमारा मन पढ़ाई में लगे ।।।।।

    ।।धन्यवाद।।

    1. धन की प्राप्ति और विद्या की प्राप्ति हमारे यहां से यंत्र और ताबीज़ मांगने से दूर हो जाएगी. परन्तु सारे कष्ट दूर जाएंगे ऐसा कोई उपाय बना ही नहीं है. इन दोनों के लिए आपको 3000 रु जमा कराने होंगे. इसके बात birth detail भेजना होगा. इनके 15 दिन का समय लग जाता है. info@dharmalay.com पर संपर्क

  39. गुरूजी , दिव्य दृष्टि पाना चाहता हु (आज्ञाचक्र को जगाने का प्रयास कर रहा हु पिछले 2 साल से) रास्ता बतलाये

  40. guru ji mera naam neeraj bajpai hai . aur abhi sadhnaon ke liye koi guru nhi hai kripya sabse pahle mujhe guru mantra dijiye jisase mai kisi bhi sadhna ko kar paau . guru hi sabse bada dev hota h isliye sabse pahle mai apko guru banana cahta hun jis se mujhe guru mantra milye jiska mai jap kar sakun kyon ki wah sari shaktiyon se milkar guru mukh se prapt hoga …… kripya meri sahayta kariye mujhe apne charno ka dass bana lijiye gurudev.

    1. सिद्धियां निशुल्क नहीं होती। यह मार्गदर्शन करने की चीज़ नहीं बल्कि technical विषय है. इसकी गुरु दक्षिण 11,000 रुपये है. यह विस्तृत तकनीकी वयाख्यान का विषय है. इसकी जिम्मेदारी उठाना या इसके सम्बन्ध में बताना निशुल्क संभव नहीं. info@dharmalay.com पर संपर्क करें

  41. guru ji mujhe waise shabri vidhya ke dwara jan kalyan ki bhawanaa se ye vidhya sikhni hai jisse mai garibon aur pareshan logon ki sahayta kar sakun. esa tabhi sambhav hai jab aap meri sahayta karen mai ram bhakt hun aur hanuma n ji mere isht hai kripya guru ji mera marg darshan kariye..

  42. mai ye janna cahta hun ki mai 11000 fees dene ke baad purn sidhi pa sakunga.. ya mujhe kya kya prapt hoga? kripya mujhe bataiye guru ji. fees mai apko de doonga mai janta hun ki mere guru ji ko bhi fees ki baat khushi se nahi karni pad rahi hai awshyakta to hoti hi hai. aap chinta mat kariye mai fees todoonga apna cont. no de dijiye ek baar apse baat ho jayegi to apne man puri baat apse bata sakoonga bs guru ji yahi iccha hai meri.

    1. Kewal fees dene se siddhi prapt nahi hoti. Kisi bhi vidya ko seekhne ke liye, sishya ko swayam bhi parishram karna hota hai aur yahi sootra sabhi jagahon par lagu hai. Guru takneeki bataata hai aur kathinaiyon ka samadhaan karta hai. Kisi bhi vidya mein kamyabi to apne hi prayatno se prapt hoti hai.

      Guruji ka sampark number 08960283294 hai. Yah sampark karein page par bhi uplabdh hai. Din mein 10 se 1 ke beech hi sampark karein.

  43. Guruji pranam.Main Abhi padhai kar rahahun, main Abhi 20 saal ka hun. Main sadhana Karna chahatahun. Main hanuman ji ke sadhana Karna chahatahun. Mujhe marga darshana karaye. Main hanuman hi KO pratakhya darshna Karna chahatahun. Plzzz mujhe bataye mujhe KIA prakar he sadhana KO sidhi kar saktahun.
    Jay Bajaranga Bali.

    1. Guru ji radhey radhey i m shriyansh sharma . Guru ji m sadhna krna chahta hu. M kamdev rati ki sadhna krna chahta hu kirpya ap mera marg darshan kijiye apke bhut krpa hogi. Apka bhagat shriyansh sharma . Ap to guru h sabka marg darshan krte h krpa kr ke apna aashirwad mujhpe bhi banaye .

  44. प्रणाम गुरु जी,
    मेरा मन शांत और ठीक से एकाग्र नहीं हो पता है मुझे आप के मार्गदर्शन की आवश्यकता है।मुझे अपने ईश्वर पर और गुरुदेव पर पूर्ण विस्वास है। चुकी मेरा स्वस्थ सम्पूर्ण अच्छा नहीं है तो क्या मैं पूरा भक्ति के द्वारा अपने ईश्वर को प्राप्त कर सकूँगा।

  45. कर्णपिशाचिनी की साधना करना चाहता हूं।। क्या ऐसी कोई साधना है जिससे मृत व्यक्तियों से सम्पर्क हो सके?

  46. kya guru jee aap ne in shabi sadhanao ko market ya biggnish bana leye hia kya jish par jab jab aap ki sadhano ke bare me padate hia tab tab aap ke bare me yahi jante hia kahi 5100 rupeesh kahi 11000 hajar ka affar milta hia yaha kya hia guru jee

    1. जितना कुछ विज्ञान सूत्र नियम बताने योग्य था, वह सब हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध है। यह वह क्षेत्र है जो कोई गुरु भी किसी को नहीं बताता। धर्मालय में साड़ी तकनीकी सार रहस्य दिया गया है। दवाओं की तमाम विधियां और नुस्खे लिखे गए हैं। ज्योतिष के लक्षण से उपाय करने की विधियां लिखी गयी है। अब इससे लाभ उठाने की जगह लोग चाहते हैं की प्रैक्टिकल भी उन्हें मुफ्त सिखला दिया जाये। धर्मालय न तो कोई ट्रस्ट है और न ही कहीं से दान लेता है। इसके लम्बे चौरे खर्चे हैं, जो व्यक्तिगत समय खर्च करने पर प्राप्त होते हैं। हम चाह कर भी मुफ्त लंगर नहीं चला सकते। लंगर चलाने के लिए हमारे पास कुबेर का खजाना नहीं है। न ही हमने कहीं घोषणा की है कि हम कोई धर्म लंगर चला रहे हैं। मुझे समझ नहीं आता कि यह सब मुफ्त चाहने वाले लोग क्या मस्तिस्क विहीन हैं। उन्हें यह समझ नहीं आता की आखिर इंटरनेट, ऑफिस, स्टाफ, फ़ोन, आश्रम इन सब का खर्च कैसे चलेगा। और गुरूजी जो एक गृहस्थ व्यक्ति हैं, उनकी आर्थिक जरूरतें किस प्रकार पूरी होंगी।

  47. गुरु जी प्रणाम मेरा नाम प्रेम कुमार है मै बहुत परिसान रहता हूँ मेरे अपने नही चाते
    कि मै आगे बढू आ

    और जिसके कारन बहुत से शत्रु बन गये जो हमे बरबाद करने मे कोइ कसर नहीछोर रहे है मेरी कुँडली का भी पता नही जिससे मै जान सकु कौन सा ग्रहखराब है कृपया मूझे मार्ग दर्षण किजिए

  48. dear sir,
    Mujhe asht yakshini siddhi krni h kafi samay se yogya guru ki talash kr rha hu lekin mujhe kahi n mila.
    Aur ap asth yakshini siddhi krne me meri madad kar skte h…
    इस साधना के लाभ हानि,साधना विधि,नियम और कब तक ये सिद्धि हो जाती होगी इसके बारे में आपसे विस्तृत जानकारी की आशा रखता हु।।।
    धन्यवाद

    1. हम पहले बता चुके हैं और यह विवरण हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध है कि सिद्धि और साधनाएं रेवरी नहीं होती. यह बहोत कठिन मार्ग है और बरसों गुरु की सेवा करने के बाद शिष्यों को प्राप्त हुआ करती थी. आधुनिक युग में ऐसे बहुत से लोग हैं जो यह समझते हैं कि हलुआ और बर्फी बनाने की विधि कि तरह साधनों की विधि प्राप्त हो जाये तो कोई सिद्धि प्राप्त करके मौज करें. मुश्किल यह है कि हम कई बार यह समझा चुके हैं कि हमारे पास आपकी इच्छा का कोई निदान नहीं है, परन्तु लोग हैं कि मानते ही नहीं. प्रतिदिन 10 व्यक्ति का रिक्वेस्ट आता है. सबको उत्तर लिखते लिखते हम परेशां हो चुके हैं. आश्चर्य यह है कि हमसे संपर्क करने से पहले वो धर्मालय पर इस विषय को पूर्णतः पढ़ते भी नहीं.

    1. हम पहले बता चुके हैं और यह विवरण हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध है कि सिद्धि और साधनाएं रेवरी नहीं होती. यह बहोत कठिन मार्ग है और बरसों गुरु की सेवा करने के बाद शिष्यों को प्राप्त हुआ करती थी. आधुनिक युग में ऐसे बहुत से लोग हैं जो यह समझते हैं कि हलुआ और बर्फी बनाने की विधि कि तरह साधनों की विधि प्राप्त हो जाये तो कोई सिद्धि प्राप्त करके मौज करें. मुश्किल यह है कि हम कई बार यह समझा चुके हैं कि हमारे पास आपकी इच्छा का कोई निदान नहीं है, परन्तु लोग हैं कि मानते ही नहीं. प्रतिदिन 10 व्यक्ति का रिक्वेस्ट आता है. सबको उत्तर लिखते लिखते हम परेशां हो चुके हैं. आश्चर्य यह है कि हमसे संपर्क करने से पहले वो धर्मालय पर इस विषय को पूर्णतः पढ़ते भी नहीं.

  49. Pranam
    Mera naam Divyanshu GAUTAM hai. Mai ma Maha kali mata ki siddhi prapt karna cahta hu. Kripaya Margdarshan de.

    1. हम पहले बता चुके हैं और यह विवरण हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध है कि सिद्धि और साधनाएं रेवरी नहीं होती. यह बहोत कठिन मार्ग है और बरसों गुरु की सेवा करने के बाद शिष्यों को प्राप्त हुआ करती थी. आधुनिक युग में ऐसे बहुत से लोग हैं जो यह समझते हैं कि हलुआ और बर्फी बनाने की विधि कि तरह साधनों की विधि प्राप्त हो जाये तो कोई सिद्धि प्राप्त करके मौज करें. मुश्किल यह है कि हम कई बार यह समझा चुके हैं कि हमारे पास आपकी इच्छा का कोई निदान नहीं है, परन्तु लोग हैं कि मानते ही नहीं. प्रतिदिन 10 व्यक्ति का रिक्वेस्ट आता है. सबको उत्तर लिखते लिखते हम परेशां हो चुके हैं. आश्चर्य यह है कि हमसे संपर्क करने से पहले वो धर्मालय पर इस विषय को पूर्णतः पढ़ते भी नहीं.

  50. guruji mai bhaut paresan hu apni jindgi se mera koi bhi kary pura n hota h m ghar par humesa musibt chai rahti h mai tantr vidya sikhna chati hu ya to mujhe isse niklne ka koi upay bataiye

    1. आपको ईमेल पर समस्त विवरण भेजने के लिए कहा गया था. बिना विवरण के हम किस प्रकार आपकी सहायता कर सकते हैं? जहाँ तक तंत्र विद्या सीख कर अपनी समस्या को दूर करने का प्रश्न है, यह ऐसा ही है जैसे भोजन बनने के समय कददू रोपना. तंत्र विद्या का बहुत व्यापक अर्थ है. एक दो क्रिया विधि सीखने में ही बरसो लग जाते हैं. यदि यह करना ही चाहती हैं तो यह एक अलग विषय है. इसके लिए भी पूरी पात्रता, बायो डाटा, तस्वीर और क्या सीखना चाहते हैं यह डिटेल ईमेल पर बताना होगा. यह गोपनीय क्षेत्र है. बिना गोपनीयता की शपथ लिए या अभिषेक करवाए इस सम्बन्ध में जानकारी तक नहीं दी जाती, सीखना तो दूर की बात है.

  51. Guru ji mai sadhna ke path PR chalna chahta hu kripya sadhna kaise kre dhyan ke uchtam bindu tak phuchne meri madad krne ki kripa kare,kripa kr vidhi btaye….

    1. हम पहले बता चुके हैं और यह विवरण हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध है कि सिद्धि और साधनाएं रेवरी नहीं होती. यह बहोत कठिन मार्ग है और बरसों गुरु की सेवा करने के बाद शिष्यों को प्राप्त हुआ करती थी. आधुनिक युग में ऐसे बहुत से लोग हैं जो यह समझते हैं कि हलुआ और बर्फी बनाने की विधि कि तरह साधनों की विधि प्राप्त हो जाये तो कोई सिद्धि प्राप्त करके मौज करें. मुश्किल यह है कि हम कई बार यह समझा चुके हैं कि हमारे पास आपकी इच्छा का कोई निदान नहीं है, परन्तु लोग हैं कि मानते ही नहीं. प्रतिदिन 10 व्यक्ति का रिक्वेस्ट आता है. सबको उत्तर लिखते लिखते हम परेशां हो चुके हैं. आश्चर्य यह है कि हमसे संपर्क करने से पहले वो धर्मालय पर इस विषय को पूर्णतः पढ़ते भी नहीं.

    1. सिद्धियाँ धर्मालय के कमेंट सेक्शन में बताया जा सकने वाला विषय नहीं है. हाजिरी से आपका क्या औचित्य है. आप इस बारे में विस्तार से हमें लिखिए. ईमेल पता – info@dharmalay.com

    1. यह जानकारी यंत्र के साथ भेजी जाती है और इसके लिए रु 3600 शुल्क जमा करवाना होता है. यह सार्वजनिक जानकारी नहीं है.

  52. मुझे आप ईमेल पर सिदधी के बा रे मे और आपके सस्थान की जानकारी भैजे।

    1. सिद्धि चाहनेवालों के लिए यह जानना जरुरी है की मेरे पास समय का आभाव होता है ;यह बरसों तक दिशा निर्देश की जिम्मेदारी उठाने काम है . इसके लिए 11000 रूपये रजिस्ट्रेसन शुल्क और एक हजार रुपये मासिक मेंटेनेंस शुल्क देना आवश्यक है . संस्था के बारे में सारा डिटेल वेबसाइट पर संस्थापक के परिचय में उपलब्ध है ,

  53. Guru ji sidhi se agar kisi ka or apna bhal hota h to mujhe be sikhna hai guru ji Aapko Bhole Nath Sada sukhi Rakhe Jai bhole Nath.. my no.. 8572010114

    1. सिद्धि चाहनेवालों के लिए यह जानना जरुरी है की मेरे पास समय का आभाव होता है ;यह बरसों तक दिशा निर्देश की जिम्मेदारी उठाने काम है . इसके लिए 11000 रूपये रजिस्ट्रेसन शुल्क और एक हजार रुपये मासिक मेंटेनेंस शुल्क देना आवश्यक है .

  54. Guru ji mera naam shraddha h main bahut pareshan hu koi samadhan karein mere ghar mein bahut problems aa rhi hain aur meri mummy ki tbyt theek nhi h kripya koi samadhan karein

  55. Sir hajri se mera arth hai Ji jab hum koi sidhi krte hai to pahali raat me Jo hum guru ke saath pooja karte hai jisse ki him apne ap ko taiyar kr sanke …kahne ka arth hai ki ap ek bar shuruvat kra dijiye plz….

    1. shashtriy viddhi men puri guru parampra ki puja karane ki vidhi hai.yeh panth vishesh ki apnee visheshta ko sthapit karne ki orakriya hai. jarur apne kisi se sampark kiya hoga jisne apne panth ke guron ki jankari dee hogi , whi mansik chhvi dikhai parti hai. per panth kai hain aur sab men alag alag guru parampra hai. isme sidhi prapt karane ke liye puri tarh isi men doobna hota ha ye log jo vidi prakria apnate hain ,usmen koi sidhee nahi ho sakti ,kewal panth vistar ho sakta hai. koi wykti 400-500 devi devta nki puja sidhi ek sath nahi kar sakta .inmen keval vidiyan hi vidhiyan ahin

  56. Maine aap ke sujhavo ko pada ache lage ma delhi se hu.sidhiya kya hoti ha aur inse kya ho sakta ha ye toa nahi janta par ma dhayan lagta hu aur dhayan ke anubhav bohat he chamatkari ha Maine anubhav kiya ha par Kai bar dhayan nahi lagta vicharo ma ulajha jata hu aur Kai bar nirmal dhayan lag jata ha par aisa har bar kyun nahi hota.ma shadi shuda hu mera ek ladki bhi ha mera dil Isa ghar grashti ma nahi lagta Kai bar dil karta ha ghar chode ke chala jau par phir lagta ha ki apni zimedari se bhagna thik nahi ghar par ma shanti se dhayan nahi laga pata agar ye zimedari nibhata raha toa janane yogye Jo ha woa nahi jaan paunga ma janta hu dhayan se he gyan milega par kya mera ghar chodna thik rahega.mujhe sidhiyon ke bare ma nahi janana chata bas mujhe itna bata dijiya kya gyan prapti ke liya mera ghar chodna sahi rahega jaise Buddha ne choda tha ma woa sab janana chata hu joa bhi janane yogye ha mera marg darshan karna dhanyawad

    1. ज्ञान की प्राप्ति के लिए घर छोड़ने की जरूरत नहीं होती .यह जिज्ञसा आवर अभ्यास क विषय है .लगातार अभ्यास से ही जीवन में कोई भी सफलता प्राप्त होती है .

  57. Praram guru ji
    Mai kundlini jagrit karna karna chahta hu .per kaise kare ye nahi janta.

    Mera margdarsan kijiye Guru ji.
    Mai aapka jivan bhar aabhri rahunga.

  58. hello sir. mai maa kaali ka bhagat huu aur mujamai maa kaali aati hai mai puri tarah satwik puja karta huu… mai tantrik kriyayai sikhana chahta huu parntuu merai koi guru nahi hai kripa marag darashan karai

  59. Parnam sir ji m hanuman ji ki sidhi karna chahta hu bachpan se laga hua hu but sahi marag darshan nahi hone ki wajah se manjil ke kafi kareeb pahuch kar wapis aa chuka hu m hanuman ji me darshan karna chahta hu kripya maragdarshan kare.

  60. Mujhe manta diksha leni he . me dil se sadhna krna chahta hu . .kr v raha hu . .bt ek jagah sthir nahi ho pa raha hu . .Koi uchit guru . Bataye. . .jo uchit & chhota matra de kr (mere ist ka ) mera sadhna path pr marg darshn kere . .taki me apne & lok klyan k kaam aa saku . . .

    1. पहले गुरु का चुनाव करें .फिर अपनी आय का आधा भग[मासिक] दे कर प्रथाम्म्म्मनाकारें की वे आपका मार्ग दर्शन करें .यही शास्त्र का निर्देश है .

  61. My name is guman Rajora add. Bharatpur rajasthan ka hu. Mujhe bhairav ki sadhna Karni he .aap guruji Mujhe sadhna Sikha do. Kyoki mere papa ke tabiyat kharab rahati he. Pichle 10barso se.tantrik ke chakkr me makan bik gya.mo.9694029779

  62. Sadhna karne ke baad us yantra or photo ka kya karna hota usko behte pani mein parwade ya fir kya karen plz iskr baare mein sampoorna jankari de..?

  63. नमस्कार महाराज,
    दण्डवत प्रणाम

    मेरा नाम भाविन हे, में अहमदाबाद का रहने वाला हु, मुजे कुछ बातो के लिए आपका मार्गदर्शन चाहिए, कृपया मुजे मेरे ईमेल पे प्रत्युत्तर दीजिए, मुजे आपकी मदद की बेहत जरुरत हे,
    panchalbhavin3010@gmail.com,
    +91-9737491086

    आपका आज्ञाकारी
    भाविन

  64. Guru ji kya wakey siddhi m itni sakti hoti h Ki Kisi manushy ya jeev KO apne wash m matlab apni or akrshit Kr ske ek siddhi h vashita siddhi kya is se ye sambhab h plz plz reply or is siddhi ko kese paya ja sakta h plz plz reply me

  65. श्रीमान जी हमे को जिन साधना करनी ह सुलेमानी की कैसे और कहा होगी रिप्लाय जरूर दे धन्वाद 9468182813

  66. Namaskar guruji,
    Me Prashant Solanki Ahmedabad se hi.Mene abhi apki website dekhi.Muje bhi sadhna sikhni he.Me esi shakti pana chahta hu his ke dwara me Kisi taklif vale insan Ki taklif ko due karne ka Rasta Bata saku.Insan ka chahera dekhke uska pura itihas batadu.Vartman ,bhutkal aur bhavishyakal ko Jan shaku.
    Me apne gav me mataji ka sevak hu.
    Please aap meri into request sun lijiye aur muje iska Hal send kijiye.
    Me aapka bahut aabhari rahuga.
    prashantsolanki715@gmail.com

  67. guruji namaskar. meraa name sarla h. me 1 saal se dhyan me sanlagn hu. kuchh anubhav hue h .
    lekin ab mere sharir me dhyan k baad gahri awastha me pawan Ki awaj sunai deti h jese koi bde tufaan Ki awaj or WO mere sharir me prawesh krtii h..me mandir gai thii kuch din pahle to aarti k samay me bilkul gahre dhyan mechalk gai sharir me bahut kampan hua or andar se hum hum Ki bahut tej awaj aane lgii.fiir or jor se aane lgii… fiir meredono hath apne aap dhire dhire upar ashirwad Ki awastha me uth gye. fiir mera muh apne aap khula or bahut bhankar awaj aai chillai me… par WO meri aawaj nii thiii… mere hath b aise kaap rhe the k me unko dekh k hii Dr rhiithis.. SBB kuch bahut alag lg rhaaa thaaa. or abb dhire dhiire or pawan b prawesh kr rhii h mere sharir me… aap mujhe btaiye k ye Jo pawan ka kahtii huWO meraa bhraan h yaa sach h???

  68. नमस्ते गुरु जी। गुरु जी मेरे एक गुरूदेव है सीधे और सच्चे। वह माँ काली के भक्त हैं। वह सिद्धी सीखना चाहते है समाज के कल्याण के लिए। अभी मात्र 34 वर्ष के हैं।आपसे निवेदन है कि आप कोई एसी सिद्धी बताएं जिस से मेरे गुरु का कल्याण हो।

  69. Guru ji in Sab logo ke questions or app ke answer se bhut kuch sikhne ko mila h Maine b vashikern sidhiya prapt ki hui h per mai unka kbi b gelt istmaal nhi kerta or jrurt ane per hi unka istmaal kerta hu
    App jaise logo ne hi ye bidya jgaker rkhi hui h anyatha ye SB to lupt hone ki kagar per thi kyuki gelt sadhak prapt ki hui sidhi ka durupyog kerta jisses samvya ko to hani hoti hi dusro ko b dukh deta

  70. muje apsara sidhi karni hai kaise karu kuch samaj nahi aa raha or jaha se b jaankaari milti hai sab alag alag hi batate hai ab kis ki baat sahi maanu . aap muje sampuran vidhi bataye .

        1. Billi ko jab muft ki malai nahimilti to jo samne hota hai usi per attak kar deti hai. Kya dar.alay koi vigapan kar raha hai ki mere pass aao main siddhi kara doonga?tab bhee muft ki malai ke liye log toot parte hain 100 post kar chuka hoon ki aap akele nhi hain Din men25 30 sikhne poochhne wale aate hain. Sab ka sabjekt lag hota hai .wyktigt taur pr main nahi bata sakta .per ahut se murkhon ko yh bat samajh men hi nahi aati ki siddhiyan batane ki cheej nhi hoti kyonki yh wisrit prkriyon ke jal se poori hoti hain .lalchi muftkhor chalakon ki samajh men aa bhee nahi sakti ,kyonki ye to bap ko bhee gaaliyan de kar dhan mangne waale hote hain .ydi ab badtaamijee ki to dbg cort men aana padega .dharmaly kisi pakhandi baaba ka aasam nahi hai .yh varist patrkar aur wrld lebel ke athar ki sanstha hai.

  71. pranam sir,
    main apne father ko kho chuka hun , wo isi month main expaire kar chuke hain.
    unka darshan karna chahta hun….. unse baten karna chahta hun.
    apse prarthana hai ki koi sadhna ya sabri mantra batyen.
    kripya na mat kahna !

    1. आप क्यों उन्हें तंग करना चाहते हैं ? यह सब प्रेत साधना के अन्तरगत आता है .आप स्वयं कर नहीं सकते ,क्योंकिइसकी सिदधि करनी होती है और यह बरसों का काम है .किसी से करवाइएगा ,तो पिता को परेशानी होगी उनकी मुक्ति क्रिया बाधित होगी .

  72. नमस्ते प्रभु
    मैं हरिंदर दिल्ली में रहता हूँ । मैं मैय्या दुर्गा जी की विधिवत मंत्रों द्वारा तन मन श्रद्धा विश्वास के साथ सभी विकारो से रहित होकर सिद्धि प्राप्त करना चाहता हूँ ।कृपा करके आप मेरा मार्गदर्शन करे ।

    1. आप लोग हमारी बेव साइट नहीं पढते .सीधेप्रश्न ठोक देते हैं .थोड़ी मेहनत करेम ,तो वहाँसारे गुप्त रहस्य मिल जायेंगे . आप ही बताइये ,दिन भर मे25 -30 व्यक्तियों को अलग अलग साधनाओं के विषय में कैसे बताया जा सकता है?साधनायें क्या शबॆत बनानें जैसी चीज है कि दो चार लाइन में मागॆ दशॆन करदूँ?

  73. Sir mera nam yogendra h me Rajasthan se ho agar me kuch bhi ACCA Karen ki kosis karta hu to dura hota h
    Or mere pas kbhi pesse rukte nhi or na aate h

  74. मुझे अप्सरा साधना करनी है मुझे मर्गदरसिओं करे ओर दीक्षा दे

    1. यह खिचरी बनाने की विद्धि नहीं है .बहुत कुछ गुप्त होता है और न भी हो तोदिटेल बाटने में एक साधना में २५ अ ४ पेज लगेंगे . इतना समय मेरे पास नहीं है . हर आदमी अलग अलग साध्न्ना का डिटेल छटा है . यह मेरी किताबों में मिलेगा डी, प.बी. चवरी बाजार दिल्ली से संपर्क करें .

  75. आप से निवेदन हे की आप अपनी धर्माल्य की app पर साधनाए पोस्ट करे

  76. good afternon guru ji guruji m bhahut garib pariwar se hu meri mata ko blad kensar hogaya tha kafi rupiye lagane k bad bhi o expayar hogayi or ab 7 month se mere papa ko lakwa lag gaya h use bhi sabhi jagh se davai dilaya lekin koi fayda nahi ho raha mene tv m bhagydarpan ka add dekhkar waha se bhiilaj karwaya koi fayda nahi gar m jo bhi kamate h pata nahi kaha chala jata 15 year se bimari chal rahi h priwar m kabhi kisi ko 2 isliye m sunil kumar ye sabhi sadhna sikhna chahata hu plase kisi garib k maddd kar saku my contect no 9602512255

    1. साधना सिख कर इलग करना या भाग्य संवारना ,भोज के समय कोम्हरा रोपने जिस काम है .यह बरसों का एक काम होता है मेरे पास इतना समय नहीं होता . पिता के लिए धतरा ,कनेर, अपामार्ग ,मदार ,१०० – १०० ग्राम जड़ पीस कर ११० ग्राम लहसुन ,५० ग्राम हींग पीसकर २ लीटर पानी और एक लीटर सरसों तेल में घोंट कर धीमी आग पर गर्म करें . जब केवल तेल बाख जाये छान कर बोतल में बंद कर लें पहले छाने हुए मेल से कुछ दिन गर्म कर कर के मालिस करें और कपडा ढकने जिससे हवा न लगे . जाब मेल ख़त्म हो जय तो तेल का उसी तरह इस्तेमाल करें .

  77. जय गुरु देव मुजे अप्सरा साधना सामग्री नही मील रही

  78. Guru ji namesake.

    Mera naam Mahesh Hai. Or m Delhi me Rehta hoon. Mere bhi in karyo me Hai.
    Main aapko batana chaunga ki mere nanaji bhi ek bhagat aadmi thy. Appne bawariyo ke bare me to suna hi hooga. Wo sabhi unke sar aate thy. Ab wo is dunia me nahi Hai par wo jaane se pahle apni saari sidhia meri mataji ya pita ji ko dena chate they. Lakin undone lene se mana kar diya Tha or phir nanaji ne kisi ko bhi wo sab nahi diya. Kya koi aisa rasta hai ki main unse baat kar saku.
    aapko ek baat batana hoon ek din ki baat hai pados ke ghar main ek aural Jalkar Mar gai thi. Jis din uski
    Terhvi thi us din wo ghar ke bhar kisi dusri aurat ke saath aakar darwaje se awaj lagane lagi meri bahen(mamaji ki ladki) ne dekha or wo hairan ho gai Lekin Wo samaj gai ki mamla gadbad hai. Usne pucha kya hua wo boli Bahar aaja wo boli nahi tu andar aaja. Wo boli nahi Tera baba baitha hai (Lekin nanaji ko gujre kai saal ho Gaye thy) Usne kai baar
    Bahar bulaya Lakin Bahan Bahar nahi gayi aakhir me Usne Bola main tujhe lene aayi hoon. Jab Wo Bahar nahi aayi to Usne Apana jala hua Roop dikhaya. Lekin Wo nanaji ki wajah se andar nahi aa saki. Main bhi nanaji ki Tarah se kaam karna chata hoon. Aaj bhi gaav ke ghar me koi buri shakti andar aane se darti hai.
    Kirpya marg Darshan kare

    1. यह प्रैक्टिकल क्रिआवों का मामला है .मेरे पास इतनमा समय नहीं होता . बहनों को सुरक्षित करें . घर के बाहर अत्तक हो सकत है .

    2. महेश जी क्या आप की बाते सच हे ?
      मैं भी साधना ही सिख रहा हु

  79. जी मैं गुरु शिस्य परम्परा की सिद्धि/आध्यात्मिक ज्ञान चाहता हु। मुझे क्या करना होगा।

  80. Mai badi muskil main me jindgi Suruaat karze se hui kabhi bhi Cum hone laga nh musibat aa jati aur ghatane ki bajay badh jata samjh nh aa raha kya karu kuch logo new Dhaka se phir fasa diya.

  81. मुझे बचपन से कर्ण पिशाचीनी विद्या सीखनी है क्या आप मुझे मार्ग दर्शन कर सकते हे।plzzzzz

  82. गुरु जी में तंत्र विद्या शीखना चाहता हूँ कृपया मार्ग दर्शन करिये।

      1. गुरु जी प्रणाम में आपका सिस्य बनना चाहता हूँ के बनसकता हो।

  83. हमारे यहां एक संस्थान हे जो , निशुल्क साधना सिखाते हे , हर विद्या सिखाई जाती हे यहा पर मैं भी इस संस्थान से अभी अभी जुड़ा हु ! ओर हर समस्या का निःशुल्क समाधान भी करते हे !

  84. गुरू जी को प्रणाम

    मैं आपसे दिव्य दृष्टि (जो भविष्य देख सके ) की शिक्षा लेना चाहता हुं । आप इसके बारे में सुझाव दीजिए।

  85. महाराज प्रणाम ।महाराज किसी अलोकिक शक्ति से संपर्क करने का कोई उपाय बताइए. Mai किसी अलोकिक शक्ति से संपर्क करना चाहता हूँ। क्या किसी अलोकिक शक्ति से संपर्क करना संभव है

  86. गुरु जी चरण स्पर्श में विनोद कुमार शर्मा आपसे जानना चाहता हूँ की 4 साल के अंदर ही मेरे दो बेटों की मौत हो गयी है बहुत मेहनत करके भी आर्थिक परेशानी बनी रहती घर में सभी परेशान रहते है बेटो की मौत ऎसे हुयी है जैसे उनके। ऊपर किसी ने कुछ करा दिया हो । प्लीज आप मेरी सहायता करे व् मुझे कुछ उपाय बताए जिससे में अपनी परेशानियों को कम। कर सकु या आप कुछ ऐसा करे की मेरा जीवन सही तारीखे से कट सके या मुझे किसी अच्छे तांत्रिक के विषय में बताए या उसका पता दे जिससे में अपनी समश्याओ का समाधान करा सकु जो भी खर्चा होगा में करने को तैयार हूँ पर मेरी समश्याओ का समाधान हो जाना चाहिए आपका आशिर्बाद पाने की लालसा में विनोद शर्मा

    1. koi bhee poori tarh takdeer ko nahi badal sakta .aap sabse pahle kudli dekhen khana 5 ewn 9 men rahu ketu ya 2 -8 men rahu ketu to nahi hai ? makan ka wastu chrek karen .dakshin , dakshin -purv , paschhim ka men gate ya udhar khula hua to nahi hai ?ghar ki naali aur chht ko chek karen . har cheej keval kiya karaya nahi hota .

  87. Pranam shiv ji ke pratyaksh darshan karna chahta hu…sidhon ke ashirwad se kam jaldi banta hai..mantra vidhi vidhan kuch nahi chahiye…ashirwad chahiye safalta ka…

  88. Upar ke comments dekh ke to lagta hai aap siddhiyon ko aaloo-tamatar ki tarah bech rhe ho, ye ek fraud ki taraf bhi ingit karta hai

    1. Coment karne wale ka kya ,we dviyon ko bhee gali de rahe hain aap khud bhramit dikhte hain .hamare yhan kisi ko shishy banaya hi nahi jata . Sidhi tamate aalu nahi hai yh post karte kart maien pagal ho raha hun ,pr peecha nahi chhot raha . Aap kuchh kar sakte hain to kijiye ,chahe mujhe frod bata kar hi .aavai rahunga. Dharmaay ki ya meri patistha itni kamjor nahi hai ki kisi ke c foonkne se gir jai.

  89. pranam guru ji, mai koi aisi shakti prapt krna chahta hu jisme koi paresani na aaye. Muje paise wala banne k lye shakti chahiye. kya sambhav h guru ji?

  90. guruji me esi chiz chahta hu Jo muje dikhai de our meri help mere me gaytri maa ke Darshn karna chahta hu me kai sare logo me pas gaya lakin koi bhi meri help nahi karta plz aapki aasha he mere pas vakt bahut kam he yadi mera sapna pura ho jaye to meri jindagi save jayegi plz

  91. Guruji muze aapki sakhta jarurat hey ,mera koi bhi business nahi chal raha hey,mere pe kisi ne jadu tona kiya hey kya muje patta karna hey,plz help mi

    1. संस्था से जुरना औ जादू टोना से मुक्ति पाना दो अलग बातें हैं . मैं शिष्य नहीं बनता और व्यक्तिगत सेवाएं सशुल्क हैं .जो काम में लगाने वाले समय और परिश्रम के अनुसार होता है .

  92. Guru ji ko sadar pranam, guru ji mai grihasth aadmi hoon.mai durga ji ki pooja jaap krna chahta hoon. Unka mantr sidh krna chahta hoon kaise kre upay bataye….mala ka sanskar usko jagrat krna or guru se diksha lene k baad hi mai koi koi mantr siddh krna chahta hoon …kaise hoga upay bataye

  93. Is ka matlab ye koi adhyatam aashram nahi koi institute hai jaha fees pahley hoti hai sikhsa ka koi bharosa nahi hai…….

    Thx ur reply

  94. GURUDEV PARNAM MAI PANCHANGULI SADHNA KARNA CHAHTA HU YA AUR KOI SADHNA HAI JO BHAVISHYA KA JHAYAN DENE WALA HO TO WO BHI BATAYE MUJHE JAN KALYAN KE LIYE YE SADHNA KARNA HAI

  95. Jai Mahakal
    Swami ji aap hmari kuch Sahayta are hum apki Saran me aaye hai mai shanidev ka upask hu mujhko bhgavan aur Maa bap ne Sab kuch diya hai lekin mai Jise 5 sal se chahta tha use pa nai rha hu Jise mai apni dharmpatni k rup me dekhna chahta hu uski sadi hone vali hai abhi bhi kuch Samay hai lekin uske vale mna kr rhe hai
    Apke pas iska kuch upay ho to jaldi btaiye
    Mo no 8109627736 plz contact me

  96. Guruji Sadar Pranam,

    kya yeh sambhav hai ki mrityu ke baad (after body distroyed) bhi kisi ko prapt kar saken ?

    kaha jata hai ki bhagwan ke liye kuch bhi asambhav nahin hai, to kya bhagvan ke liye yah sambhav hai ? ya phir unke liye bhi asambhav hai !!!

  97. Koi bhe kaam nai bnta bekaar ke tensn
    Koi esa tarika hai jis se me apni aane bhali problem our family bhalo ko Kush rkh sku
    Koi tarika .bhole baba ko Kush krne ka koi mantr

  98. Guru ji kundlini jagran ke liye koi guru mantra de dijiye jo ki kis prakar or kitni bar uska jap krein taki kundalni jagran ho jaye kya ap mujhe koi kundali jagran ke liye mantra or vidhi bataenge plzzzz. Main kundlini jagran ka abhyas rojana karta hun parntu mujhe ek sidhh guru mantra ki avashyakta hai app apni kra se ek sidhh mantra bata diye plzz.

  99. guruji prnaam mera naam lucky verma h meri age 24 hai mere guru bhi h m pichle 3 saal se continue sadhna kar rha hu but abhi tak safal nhi ho paya hu mere guru jo niyam batate hi m unhe puri tarah se followe kar rha hu bus mera dyan ekagrchit nhi ho pata h bus itni si paresani h m apni akagrta badane k liye kya karu mera apse nivedan h ki mera margdarshan kare apki bhot kripa hogi………..

  100. मैं मीन राशि का हु । मै सारी अलौकिक शक्ति पाना चाहता हु

  101. गुरूदेव के श्रीचरणो मे प्रणाम मेरा नाम मनोज कुमार वैष्णव है मेरा जन्म चैत्र बुदी एकादशी संवत 2028 को रात्री बारह बजकर चौवन मिनट पर हुआ है मेने आज तक बहुत सारे उपाय किए है परन्तु निराशा ही हाथ लगी है कई ज्ञानी पुरूषों के द्वारा बताये अनुसार साधना भी की लेकिन कोई सिद्धी नही मिली मैने एक प्रण लिया हुआ है कि सिद्धी से प्राप्त धन मेसे 40% चालीस प्रतिशत राशी मै गौऊ सेवा के लिए दूंगा लेकिन लगता है कि मेरा प्रण अधूरा ही रह जायेगा आप मेरी सहायता करें तो आपकी महत्ती कृपा होगी इसके लिए मै परी सिद्धी करना चाहता हूँ कृपया मेरी मदद करें

    1. मेर पास समय का अभाव होता है .महीने में दो हजार लोग अलगअलग‌ सि द्धि में गुरू बनाना चाहता हैं .मैं हजार रूप धारण कर लूँ तो भी सम्भव नहीं है .मैं विस्तार में इनके डिटेल एक एक कर वेवसाइट पर डाल रहा हूँ .देखते रहयॆ शायद मदद मिल जाय.

    1. व्यक्तिगत मागेदशेन सम्भव नहीं है .जटिल प्रक्रियाँयें होती. है ,बषोॆमागॆनिदेॆशन करना पड़ता है .इतना समय नहीं होता .

  102. 8 योगिनियाँ// उनकी सिद्धि के मंत्र ke baare mein bataye, hum kaise aur kis tarah se unka dhyan kr sakte hai, unko praapt kr sakte hain? kitna samay aur iski vidhi bataye.

  103. Pranam,
    Mene pusph kinnari sadhana ek bar ki he par safalta nahi mili
    Ap hi much help kijiye
    Mere pass yantra or mala he
    Pr aam ki lakdi ki chowki/bajot nahi he to mene dusri lakdi ka bajot Liya or sadhana ki this
    AB me firse sadhana karneke sochta hu
    7383093573

  104. 8 योगिनियाँ// उनकी सिद्धि के मंत्र ke baare mein bataye, hum kaise aur kis tarah se unka dhyan kr sakte hai, unko praapt kr sakte hain? kitna samay aur iski vidhi bataye

  105. प्रणाम।
    कृप्या ज्ञात अज्ञात जानने की साधना बताएं।

  106. गुरूजी प्रणाम
    मेरा गाँव मे एक कचरा जहाँ डालते है वहाँ उकिरडा हम मराठी मे बोलते है। वहाँ हुआ है। में समाज के लिए कुच अच्छा करना चाहता हूँ।तो मे कोनसी साधान करके आपमेंं शक्ति पा सकता हु। मुझे आपके मार्गदर्शन की आवश्यकता है।

    1. इस सम्बन्ध में व्यक्तिगत सेवा सशुल्क ७ै .कुणडली से गणना करनी पडती है यातस्वीर से जानना होता है .इसमें३५००रूपये जमा करवाने होंगे

    1. बिजनेस का किस्म बताइये .ज्नम डिटेल भेजिए और इनके आधार पर बने यंत्र और ताबीज क् प्रयोग कीजिए. खचे ३५०० रू आयेगा .कोई भी काय्वायी राशि जमा होने के बाद ही होगी

  107. Guruji mujhe sidhi ki prapti karni hai,mere jivan me bahut kast aur asflata ke alawa kuch v nahi mila , mera socha hua much v kaam nahi banta hai, mai hamesha rog or karje me pada rahta hu.

  108. Kya is duniya me sab kuchh sambhav h ya kuchh asambhav b h shiddhi prapti k bad me asambhav karya ko sambhav Kar Sakta hu??

      1. गुरू जी मैंने आपसे एक प्रश्न किया था कि क्या इस संसार में सब कुछ संभव है या कुछ असंभव भी है? सिद्धी पर्ाप्ति के बाद मैं असंभव कार्य के संभव कर सकता हूं

        तब आपका उत्तर था.
        बिल्कुल नहीं .सब की सीमायें होती हैं और सब कुछ तो भगवान भी नहीं कर सकता .वह भी नियमों में बद्ध होता है .

        तो सोमवार वर्त कथा में एक साहूकार ने शिवजी तो पर्सन्ह करके अपने मृत पुत्र को पुनः जीवित कर दिया. इसके अतिरिक्त पौराणिक कथाओं में एक स्त्री का वर्णन है जोकि अपने मृत पति के पर्ाण यमराज से वापिस ले आई थी।

        क्या ये सब कथाएं झूठी हैं? और यदि ये सब सच है तो यह कौन सी सिद्धी है जिसने यह असंभव कार्य संभव कर दिया? जबकि यह कार्य तो सीमाओं और नियमों के विरुद्ध था और भगवान ने ही किया।

    1. आप क्या निरक्छर हैं .वेवसाइट देखिये .संस्थापक का परिचय और यह तो हद हो गयी .संस्था के नाम के साइट पर कमेंट कर रहें हैंऔर नाम का ही पता नहीम है .

    1. सब कुछ तो निशुल्क ही बता रहाहूँ भाई .अब हाथ पकड कर चलना सिखा दीजिये ,तो यह मेरा पेशा नहीं है .जिन्दगी की जरूरतों के लिये मुझे काम करने पड़ते हैं .

  109. गुरूजी प्रणाम ,
    मैं माँ काली का सिद्धी करना चाहता हूँ ,
    जिससे सभी रोगों का ईलाज कर सकूँ और लोककल्याण का काम कर सकू
    कृपया मार्ग -विधि के साथ मंत्र भी बताये

  110. गुरू जी मैंने आपसे एक प्रश्न किया था कि क्या इस संसार में सब कुछ संभव है या कुछ असंभव भी है? सिद्धी पर्ाप्ति के बाद मैं असंभव कार्य के संभव कर सकता हूं

    तब आपका उत्तर था.
    बिल्कुल नहीं .सब की सीमायें होती हैं और सब कुछ तो भगवान भी नहीं कर सकता .वह भी नियमों में बद्ध होता है .

    तो सोमवार वर्त कथा में एक साहूकार ने शिवजी तो पर्सन्ह करके अपने मृत पुत्र को पुनः जीवित कर दिया. इसके अतिरिक्त पौराणिक कथाओं में एक स्त्री का वर्णन है जोकि अपने मृत पति के पर्ाण यमराज से वापिस ले आई थी।

    क्या ये सब कथाएं झूठी हैं? और यदि ये सब सच है तो यह कौन सी सिद्धी है जिसने यह असंभव कार्य संभव कर दिया? जबकि यह कार्य तो सीमाओं और नियमों के विरुद्ध था और भगवान ने ही किया।

    1. कथायें रूपक हैं ,. इनके द्वारा किसी सत्य या आदशॆ को स्थापित किया गया है .इनका सार इतना ही है .हमारी वेवसाइट का पूरा अध्ययन करें .वहाँ यह विषय पहले से स्पष्ट हैं .

  111. Toh fir in sidhiyon ka asli karya kya hai?? Agar me ye chahu k mere pas bahut sari dhan daulat ho toh ye toh me apni mehnat se kama Sakta hu or agar me Naam kamana chahu toh logo ki sewa Kar k me Naam kama Sakta hu. Life k sabhi tarah problem ko me apne hard work or smart work se door Kar Sakta hu toh fir in siddhiyo ki Kya jaroorat hai

  112. Guruji me ek bahut astha waadi vyakti hu mene bahut se guru or Santo k pravachano ko suna h lekin bahut sari bate unki esi Hoti h jisme ek dusre ki bat apas. Me match nahi karti. Kahi na kahi ek takraav aa jata h. Koi toh kehta hai k manushya bhagwan ki kathputli hai jesa bhagwan chahte h vese hi manushya Karta h or koi sant kehte h bhagwan ne manushya ko dharti pe Bhej diya h usko khud hi jeena hai or uske kiye karm ka hisab uske Marne k bad liya jayega, or b bahut sari baatain h guru ji. Samajh me nahi aata k Sach kya h or jhoot kya h. Kabhi kabhi esa lagta h jese ye sab ek pakhand h. Mujhe ladta h k kahi mai nastik na ban jau in sab ki jhoothi sachhi baatain sun k. Kripya Marg darshan kijiye

    1. 11000/रू फीस एडवांस जमा करानी होगी और सिद्धि मे तो सारी सिद्धियाँ आ जातीं हैं ,भगवान भी नहीं करवा सकता .एक चुनना होगा और बताये गये तरीके से 9 से12 महीने मानसिक परिश्रम 2-3 घंटे प्रति दिन करना होगा .

  113. मैं एक शत्रु से बहुत परेशान हूँ ।कृपया करके उससे छुटकारा का उपाय बताएँ ।

  114. मैं माँ दुर्गा की सिद्धी करना चाहता हूँ । अतः निवेदन हैं कि अपनी गुरु कृपा का अमृत जल से मुझे यथार्थ करने की कृपा प्रदान करें ।

  115. आपने अपनी पोस्ट में लिखा है कि सारी सिद्धिया 2 साल में पूरी करवाई जाती है, कैसे उसके लिए ये ऑनलाइन देखकर करना पड़ेगा या आपसे संपर्क करना पड़ेगा, कोई जानकारी दीजिये, क्योंकि जहाँ तक में जानता हूं बिना गुरु के सानिध्य के कोई भी सिद्धि त्रुटि या किसी कारणवश, नकारात्मक प्रभाव या हानिकारक हो सकती है,,,
    अगर आप समझ सकते हे मेरी बात तो मार्गदर्शन करें,,,,

    1. गुरू का सानिध्य इसलिए आवश्यक होता है कि कोई भी साधना विज्ञानं के प्रैक्टिकल जैसी होती है .प्रारंभ से अंत तक समस्याएं आती हैं .उन समस्याओं को गुरु ही दूर करता है .प्राचीन कल में साधन नहीं थे .गुरु के पास रहना इसलिय जरूरी होता था .आज अमेरिका में बैठ कर भी शिष्य से बात करते हुए उसके तमाम साश्ना स्थल, क्रिया ,आदि को देखा जा सक्त्सकता है .शिष्य भी गुरु को देख सुन सकता है .साधना कोई टोना टोटका नहीं है की प्राचीन कल में जो था ,उसे ही फोलो किया जय.. उदेश्य समझ कर कम करना चाहिय .हा साधना में बहुत से आधुनिक यंत्रों और सामग्रियों का प्रयोग करते हैं,जिससे फल जल्दी प्राप्त होता है .प्राचीन कल में अर्नी से आग जलाई जाती थी ,तो हम कहें की दियासलाई आवर लाइटर प्रयोग करने से हवं का फल नहीं मिलेगा ,तो यह मूर्खता ही होगी .

  116. Me Indian army me ek highly trend para commando bana chahta hoon . me ne kai mantra jap kiya par koi fhayda nhi hua…
    Jaise ki…

    Vishwa bharan poshan kar joi takar naam Bharat ass hoi…..
    Ye ram mantra hai lkin iske jaap se koi fayda nhi dikh rha hai

  117. महाराज मैंने बहुत खोजा और कई साधुओं से मिला परन्तु कोई भी मुझे किसी तरह का चमत्कार नहीं दिखा सका। क्या चमत्कार जैसी कोई चीज़ होती भी है या ये सब सिर्फ कल्पनाएँ हैं। यदि वास्तव में होती हैं तब तो इनको पाने का प्रयास किया जाये यदि नहीं तो क्या फायदा है। कृपया अपने मेसेज द्वारा मार्गदर्शन अवश्य करें गुरूजी।

    1. इस प्रकृति में कोई चमत्कार नहीं होता .जिन घटनाओं के कारण नियम और सूत्र ग्यात नहीं होते वे चमत्कार की श्रेणी में आ जाते हैं .सिद्धि साधनाओं से क्या क्या चम्त्कार होते हैं और क्या करने पर होते है ? क्या नहीं होता ,अनगॆल प्रचार है ,यह सब हमारी साइट पर पहले से चढा हुआ है ,पर जग्यासा है ,तो पढना तो आपको ही पड़ेगा .यह विस्तृत उलझा हुआ विषय है ,हम बार बार इसमें समय नष्ट नहीं करेंगे . एक बात की गारन्टी मैं दे सकता हूँ कि धमाॆलय में सत्य ही वणिॆत है ,झूठ के प्रति सावधान ही किया गया है ,पर लोग ही अनगॆल आस्थाओं से ग्रसित हैंऔर सत्य बतानेवाले पर ही ग्यान झाड़ने लगते हैं, तो मैं क्या कर सकता हूँ?

      1. स्वामी जी बात यह है की काफी खोजने के बाद मै एक महात्मा जी से मिला।मैंने उनसे चमत्कारों के विषय में बात की। उन्होंने मुझसे कहा की चमत्कार मै खुद देख सकता हूँ ।उन्होंने मुझे दो साधनाएं बतायीं। एक हनुमान जी की की मै चालीस दिन तक रोजाना चालीस बार हनुमान चालीसा पडू। इस से मुझे कुछ चमत्कार देखने को मिल जायेगा। दूसरी शिव जी की ।शिव जी की साधना में मुझे एक मंत्र बताया और कहा की इस मंत्र के दस लाख जाप से मुझसे जरुर दिव्य शक्ति संपर्क करेगी। गुरूजी मैंने करीब आठ हजार जाप दो दिन में किये भी। पर मुझे विश्वास नहीं हुआ मुझे लगा की इस सबसे कोई दिव्य शक्ति मुझसे संपर्क नहीं करेगी। फिर मैंने जाप छोड़ दिए। आप ज्ञानवान हैं। कृपया कर आप मुझे बताएं क्या इस तरह किसी मंत्र के दस लाख जाप से मुझे कुछ अलोकिक देखने को मिल सकता है। मै बहुत व्यथित हूँ। न तो मै विश्वास कर पा रहा हूँ न कुछ और कर पा रहा हूँ। कृपया कर मुझे दिशा दें।

        1. वे कौन थे मैं नहीं जानता ,पर लगता है की बताया नहीं ,या आपने समझा नहीं . मन्त्र कभी एक दिन में नहीं जपा जाता .हफ़्तों तो इष्ट की छवि केन्द्रित करके ह्रदय या आज्ञा चक्र पर लाने में लग जाता है .इसके बाद मन्त्र जप की संख्या गिनी जाती है . मैं लाख कहता हूँ की पहले धर्मालय पढ लिया करो .जाने कितनी बार आग्रह करके कह रहा हूँ की सिद्धि को विद्धि या जप संख्या समझने वालों ,कम से कम जो तुम करने चले हो उसको जान तो लो ,पर लोग मार्ग दर्शन से ही सिद्धि प्राप्त कर लेना चाहतें हैं. मार्ग दर्शन से गाडी चला सकते हैः ? फिर सिद्धि जैसी दुर्गम रत्न कैसे प्राप्त कर लोगे ?फिर जो चमत्कर होता वह कैसे ,किस रूप में होता है और भ्रम क्या है,यह सब वर्णित है ,पर आपने मेरी सलाह तक नहीं मानी और उन्हीं बातों पर मेरा समय नष्ट कर रहें हैं ,जिन पर जाने कितनी बार प्रकाश दाल चूका हूँ ,आपको नहीं मिलता ,तो मैं क्या कर सकता हूँ ?लोग परिश्रम क्यों करेंगे ,बस ऑन टेबुल सब मिल जाए . बहुत कठिन है डगर पनघट मी की .दो दिन में मन्त्र का चमत्कार ?आपने तो हद ही कर दी श्रीमान .

  118. Guru ji me 2 sal se choching le rhi hun pr pta nhi kyon mere dimakh me kuch ni aata guru ji me bhut pooja bhi krti hun guru ji mujhe koi esa mnter btaye taki me apni mnjil hasil kr skun

    1. विद्याथियों की याददास्त के लिये धमाॆलय पर पोस्ट है .न मिले तो त्राटक देखें .यह मंतर का मामला नहीं है ,सब्जेक्ट में रुचि न होना इसका कारण है .कोई दूसरा आकषॆण मन को बाँ‌ ले रहा है .

  119. प्रणिपात,
    Online और offline दीक्षा में से कौन सी श्रेष्ठ है? कृपा कर बताएं।

    1. कोई विधि श्रेष्ठ या अधम नहीं होती .श्रेष्ठ या अधम शिष्य या गुरु होते हैं .आजकल मागॆदशॆन सॆ ही सिद्धि चाहने वाले मूखोॆं की बहुतायत है और दे कर तीन दिन में सिद्धि कराने वाले गुरुओं की भी . दीक्छा गुरु शिष्य के बीच एक एग्रीमेन्ट है .यहाँ जो विधि ,स्थान ,प्रत्यक्छ अप्रत्यकछ की बात है ,वह गुरु तय करता है और परिस्थिति एवं सुविधाओं के अनुरूप सैकड़ों शास्त्रीय रूप है .
      खाना मिट्टी की हाँडी में पकाना श्रेष्ठ है कि तांबे की या कुकर में, इसका न्युनतम अन्तर होता है. मुख्य खाना बनाने और सिखाने वाले का मानसिक भाव होता है .

  120. मुझे माहाम्रत्युंजय मंत्र सिद्ध करना है …

  121. अगर आपने ये सब सिद्धियां हासिल की है तो आपको सब से फीस लेने की क्यां जरूरत है। आप दुखियों के दुख दूर करने की सेवा क्यों नहीं करते?

    1. सेवा किसकी ? सिद्धि चाहनेवालों की ? जिनकी सेवा करनी है ,उनके लिये साईट पर सब कुछ है .धमे का अथे मुफतखोरों की सेवा करना नहीं है .हर युग में विद्वानों को आथॆिक जरूरत पूरी की जाती रही है . दक्छिना की जो व्यवस्था शास्त्रों में है ,वह तो सुनकर ही हाटॆफेल हो जायेगा मुफिलसों का ,जो हर चीज चालाकी से प्राप्त कर लेना चाहते है .यह दशॆन स्कूल कालेज कोचिंग सेन्टरों को समझाइयॆ . मॆरे यहाँ शुल्क देना होगा .मैं अपनी जरूरत के काम छोड़ कर मुफत झाड़ू लगाने में विशवास नहीं रखता .

  122. Aadarniya Guruji,
    Dattatray tantra me Chandrika Yakshini sadhna hai, jiske safal hone se chandrika prakat hokar sadhak ko amrit deti hai aur sadhak amrit peekar amar ho jaata hai. Ye amaratwa kis prakarka hoga iski aapko koi jaankari ho toh kripya batayen.( ie. Sharirik umra vahi tham jaati ho, ya fir insaan kabhi bimar na padta ho) us Amartwa ka asli Matlab kya ho sakta hai?
    Dhanyawaad.

    1. धमाॆलय के सिद्धि साधना के गुप्त नियम पढें.एक दत्तात्रेय तंत्र मैने भी पढ़ा है ,पर उसमें किसी यक्छिणी की साधना नहीं थी .ऐसी बातें दत्तात्रेय जैसे भगवान समझे जानेवाले विद्वान लिख सकते हैं,मुझे इस पर संदेह है .बहरहाल यह प्रश्न उस स्रोत या गुरु से करें, जहाँ से आपको यह ग्यान हुआ है .

  123. Guruji mera rashi ka Nam Hemant hai ,dob 7/10/1996 Janam sthan VIDISHA (m.p) samay 12:00 am hai mujhe konsi Apsara Sadhna karni cahiye jisse meri sari ikshayen puri hon or sidh karne me koi dikkat or anhoni na ho krpya margdarshn kare

  124. मैं कुछ तंत्र साधनाएं करना चाहता हूं। जिससे अपने परिवार समाज और आम जनो की मदद कर सकु । एसी साधनाएं जो एक गृहस्थ जीवन में कर सके जिससे मुझे या मेरे परिवार को कोई तकलीफ़ न हो। मुझे अभी तक इससे संबंधित कोई जानकारी नहीं है और मैं शिव जी को ही गुरु के रुप में पुजता हु मैं ऐसे सच्चे मार्गदर्शक की खोज में हु जो मुझे कुछ साधनाएं सिखाए और जिनसे में प्रत्यक्ष रूप से वार्तालाप कर सकु । क्या आप इस संबंध में कोई जानकारी या किसी गुरु के बारे में बता सकते हैं जिनसे मैं साधनाएं सीख सकु।सुना है गुरु अपने शिष्य को खोज लेते हैं और उन्हें ज्ञान प्रदान करते हैं पर मेरे साथ एसा आज तक नहीं हुआ आगे शिव इच्छा। जय महाकाल

  125. namaskar Mera Naam Rakesh hai . Mai Bihar se hu. Mai dharmalay se bahut pahle se juda hoon . main apse jaanna chahta hoon siddhi prapti ke upay kya hai ? मैं सिद्धि सीखकर इस संसार का भला करना चाहता हूँ | कृपया सिद्धि प्राप्ति के उपाय बताये गुरुवर

  126. मैं एक साधक हूँ | मैं कई वर्षों से साधना कर रहा हूँ | पर मैं एकाग्र नहीं हो पा रहा | मुझे यह बताने का कष्ट करें कि सिद्धि कैसे प्राप्त करें | mera chamatkar ko namaskar hai . is chamtkari shakti se main ek shaktishali person banna chahta hoon . isliye yah btaiye ki siddhi kaise prapt kare

  127. Maine aapse ek sawal karna chahta hoon . Siddhi kya hota hai ? Astha Siddhi kya hota hai ? Kya inhe prapt karne ke liye kisi niyam ka palan karna hota hai ? Siddhi Prapt karne me Kitna Samay Lagta hai ?

  128. Namaskar Gurudev . Mai Ek Sadhika hoon Kayi dino se is Kshetra mein Active . Mujhe Apse Kuch Sawal Ke jawab Chahiye . Mera Sawal hai – Astha Siddhi Prapti Mantra kya hai ? Siddhi Prapti Ke Lakshan Kya hai ? Mantra Siddhi Vidhi Kya hai ? Mantra Siddhi Kaise Karein? Gayatri Mantra Kaise Siddh karein?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *