शादी के चार साल हुए , सन्तान नहीं होती; क्या करें?

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

सन्तान न होने के कई कारण होते है। यदि मेडिकली स्त्री-पुरुष स्वस्थ है; तब मासिक की स्थिति , गर्भाशय में गर्मी –शर्दी की स्थिति, योनि स्त्राव का एसिडिक होना, विर्या का बहुत गाढा और बहुत पतला होना, रतिकाल की कीसी की अरुचि और स्त्री-पुरुष का भिन्न प्राकृतिक नस्ल होना होता है। इसमें शारीरिक कद-काठी और शरीर में मंगल बृहस्पति की स्थिति आदि जिम्मेदार होते है। डिम्ब न बनना या शुक्राणु का दुर्बल होना भी इसका कारण है। 5 वे भाव एवं नवें भाव में शनि-राहू का होना भी सन्तान को बाधित करता है। पितृ-दोष भी इसका कारण होता है। इसके बाद किया-कराया भी एक कारण होता है। इसके लिए पूरे परिक्षण और उपचार की आवश्यकता होती है। जब तक इन बातों का एनालिसिस नहीं किया जाये, निदान बताना कठिन है।

 

 

Email- info@dharmalay.com

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

One Comment on “शादी के चार साल हुए , सन्तान नहीं होती; क्या करें?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *