आप यहाँ हैं
धर्मालय > आयुर्वेदिक जड़ी बूटी > लोनी

लोनी

लोनी  ( Portulaca Quadrifida)

यह कई रोगों की दवा है .  किडनी के रोग (Kidney Problem), मूत्र की रुकावट (Urine Problem), आँखों की कमजोरी (Eyes Problem) का यह  आयुर्वेदिक रामबाण इलाज है

रोग – किडनी के रोग (Kidney Problem), मूत्र की रुकावट (Urine Problem), आँखों की कमजोरी (Eyes Problem), फेफड़े के विकार (Lungs Problem)

दवा- यह एक साग है। सब्जी (Vegetable) के  रूप में उत्तर भारत में प्रयुक्त होता है। इसके ताजे पत्तों (Leaf) का शरबत (Juice) 20 ग्राम दो-तिन बार पीने से मूत्र का अवरोध (Urine) नष्ट होता है , गुर्दे (Kidney) की क्रिया सुधरती अहि। यह फेफड़े के विकार भी दूर करता है। आँखों की ज्योति बढ़ाता है। कुछ वैद्य फीलपांव में भी लाभप्रद बताते है; पर यह धर्मालय द्वारा परीक्षित नहीं है।

Leave a Reply

Top