आप यहाँ हैं
धर्मालय > गंडे-ताबीज-टोने-टोटके-यंत्र .. > लिंगवृद्धि के टोटके

लिंगवृद्धि के टोटके

लिंगवृद्धि के टोटके

  1. सुहागा , तिल, कछुवी तोराई और मेनसिल – इनको चमेली के पत्तों के रस में पीसकर लिंग पर लेप करने से लिंग बढ़ जाता है । इसका लेप सात दिन तक रोज करना चाहिए।
  2. बैंगनी पुष्प वाली कुम्भी के रस में सरसों का तेल सिद्ध करके उसमें सेहुड़े का दूध , अनार का छिलका , बड़ी कटेरी का फल , कडुआ कूट , भिलावे की लुगदी बनाकर उपरोक्त तेल में सिद्ध करें और सात रोग लिंग पर मर्दन करें, इससे लिंग बढ़ता है।
  3. भल्लान्तक की मींगी , भैंस का गोबर , मूत्र तथा घीकुम्भी की जड़ , असगंध और नमक – इनका लेप करने से लिंग बढ़ता है।
  4. शहद , तगर, सफ़ेद सरसों , कटेरी , चिरचिटा , पिप्पली , तिल, जौ , कूट , काली मिर्च, सेंधा नमक, तथा उडद – इनको पीसकर लेप करने से स्तन , लिंग , भुजा आदि सभी अंग बढ़ जाते हैं।
  5. शेर की चर्बी की मालिश लिंग पर करने से उसमें अत्यंत उत्तेजना आ जाती है और वह बढ़ जाता है।
  6. बेल के पत्तों के रस में शहद मिलाकर लिंग पर लगाने से लिंग में दृढ़ता और मजबूती आ जाती है और खूब मोटा हो जाता है।
  7. बकरी का घी भी कामेन्द्रियों पर लगाने से लिंग बढ़ जाता है ।
  8. चमेली का असली तेल लिंग पर मलने से उसमें कड़ाई आ जाती है।

Leave a Reply

Top