आप यहाँ हैं
धर्मालय > आयुर्वेदिक जड़ी बूटी > लहसुन

लहसुन

लहसुन (Allium Sativum)

यह कई रोगों की दवा है . लहसुन के अनेक फायदे है . जोड़ो का दर्द (Joint Pain), कमर दर्द, लकवा ,सेक्स पॉवर (Sex Power)का यह  आयुर्वेदिक रामबाण इलाज है

 

रोग – वातरोग, गठिया, जोड़ो का दर्द (Joint Pain), कमर दर्द, लकवा ,सेक्स पॉवर (Sex Power)

दवा- इसे सब जानते है.  6 ग्राम लहसुन – 10 ग्राम वायविडंग + 10 ग्राम कला तिल पीसकर 150+ 150 ग्राम दूध (milk) पानी के  साथ  उबाल कर केवल दूध बचने पर छान-निचोड़ कर प्रातःकाल पीने से – सभी प्रकार के वातरोग मिटते है। यह जोड़ो के दर्द (Joint Pain), गठिया, लकवा, पक्षघात, कमर दर्द दूर करता है। इससे मज्जा , तन्तु एवं स्नायु को बल (Power) मिलता है। यह फेफड़े (Lungs) को भी बल देता है। ह्रदय (Heart) रोग एवं ब्लड प्रेशर में भी लाभकारी है।

सावधानी – पहले लहसुन की मात्रा 3 ग्राम रखें, पचने पर बढाते जाएँ।

यह एक आश्चर्यजनक वनस्पति है। इसका उपयोग आमवात , चर्म रोग (Skin Problem), टी.बी., दम्मा (Asthma), कंठ के रोग (Mouth Problem) , स्वर यंत्र के रोग आदि में भारत में ही नहीं, सारे विश्व (Worldwide) में प्रयुक्त किया जाता रहा है। इस एक वनस्पति के गुणों पर पूरी पुस्तक लिखी जा सकती है।

यदि गंध बर्दाश्त कर सकें और गर्मी सहन हो, तो सर्दी या बुढ़ापे से हुई नपुंसकता(Impotence)  भी  इससे दूर होती है।

सावधानी – गर्म प्राकृतिक के लोगो को आंतरिक हानि पहुचाता है।

Leave a Reply

Top