आप यहाँ हैं
धर्मालय > Uncategorized > गुलाब

गुलाब

  1. काले गुलाब की जड़ को 108 भैरव मंत्र से सिद्ध करके इसे खा जायें | 21 दिन प्रात:काल यह क्रिया करके जल पिने से नपुंसकता दूर होती है और शनि की दुर्बलता का प्रकोप दूर होता है |
  2. काले गुलाब की जड़ को 108 भैरव मंत्र सिद्ध करके ताबीज बनाकर पहनने से शनि का प्रकोप दूर होता है और वांछित प्रेमी या प्रेमिका रति के लिए रजामंद होते हैं |
  3. लाल गुलाब के पांच फूल को प्रतिदिन दुर्गा मंत्र से अभिमन्त्रित करके सेवन करने से दुर्गाजी की कृपा होती है, रुके हुए कार्य सम्पन्न होते हैं |
  4. लाल गुलाब को 108 भैरव मंत्र से सिद्ध करके किसी पुरुष या स्त्री को भेंट दें, तो वह प्रेम में वशीभूत हो जाते हैं |
  5. नारंगी रंग के प्रकाश में पीले या इसी रंग के गुलाब को 108 लक्ष्मी मंत्र से सिद्ध करके किसी स्त्री को भेंट करने पर वह वशीभूत होती है |

One thought on “गुलाब

Leave a Reply

Top