आप यहाँ हैं
धर्मालय > ज्योतिष विद्या > क्या ज्योतिष विद्या सच है?

क्या ज्योतिष विद्या सच है?

क्या सच में ज्योतिष विद्या होता है? या यह केवल अंधविश्वास है। अगर होता हैं, तो लोग इतने परेशान क्यों हैं?

ज्योतिष भविष्य जानने की एक विद्या है और यह सच है इसकी मैं हजारो बार परीक्षा कर चूका हूँ! कठिनाई यह हैं कि ज्योतिषी यह दावा करने लगते हैं कि वे सभी समस्याओं का निदान कर देंगे।ज्योतिष विद्या के आचार्यों ने कहीं ऐसी कोई बात नहीं कही है ।उन्होंने कहा हैं कि आने वाले संकट का ज्ञान जो जाए, तो उससे बचने के लिए अनेक उपाय किये जा सकते हैं।परन्तु जहाँ ग्रहों का पक्का संजोग बन रहा हो , वहां कठिनाई होती है।

उसके उपाय नहीं किये जा सकते और जो उपाय किये जाते है वो राहत देने के होते हैं।घटनाओं को बदल देने के नहीं।अंतर केवल इतना है कि सडक पर कोई गड्ढा बना हुआ है और हम मोटर साइकिल 100 किलो मीटर की स्पीड में ले जा रहे हैं , तो ज्योतिष उस स्पीड को 10 किलो मीटर की कर देगा।गड्ढा भी वही रहेगा और आपको झटका भी लगेगा।गिर भी सकते हैं , पर जान नहीं जायेगी।परन्तु ग्रह पक्का हो , तो ऐन वक्त में ब्रेक फेल हो जाएगा और एक्सलेटर जाम हो जाएगा।दोष विद्या का नहीं है दोष उन लोगों का है , जो अतिरिक्त दावे करते हैं|

7 thoughts on “क्या ज्योतिष विद्या सच है?

  1. हद से ज्यादा भी नहीं होना ” दैव दैव आलसी पुकारा “

      1. ज्योतिष मे भविष्य जाना जाता है .परेशानी दूर करने में इसकी भूमिका केवल डाँक्टर वाली है . सारा समाज डाँक्टर से भरा परा है ,फिर लोग बीमार क्यों पड़ते हैं‌?
        यह होती है या नही ,यह भारत सरकार से पूछिए,जिसने इसे हायर एजुकेशन में लगा रखा है.

      2. Jyotish sirf andhvishwas hai, kyoki jyotish puri tarah se rashi par nirbhar hai aur rashi ka koi physical existance nahi hai.
        ie jyotish ka base hi fictitious hai.

        Leave a Reply

        Top