अजमोद

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

अजमोद ( Apium Graveolens)

यह कई रोगों की दवा है. पथरी (Stone),  बदहजमी (Acidity), गर्भ निरोध (Birth Control)   का यह  आयुर्वेदिक रामबाण इलाज है

रोग – गर्भ निरोध (Birth Control), पथरी, बदहजमी

दवा तीन  ग्राम चूर्ण – 15 ग्राम मूली के रस से लेने पर कई दिनों में पथरी गलकर निकल जाती है. ऐसा ऋतू के बाद एक हफ्ता करते रहने से गर्भ नहीं ठहरता इससे बदहजमी भी दूर होती है. नमक मिला लें।

हानि- मात्रा अधिक या अधिक दिनों तक सेवन करने से यह फेफड़े को नुक्सान पहुचाता है.  यह आमाशय में गैस बनाता है। मिर्गी के रोगी को हानि पहुचाता है।

धर्मालय के प्रसार में सहयोग करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *